Golmal कैंसर के टिसू की जांच करने 9 हजार की ब्लेड 18 हजार में खरीदी

बीएमसी की पैथोलॉजी में बड़ा फर्जीवाड़ा

By: नितिन सदाफल

Published: 07 Jun 2018, 11:47 AM IST

सागर. बीएमसी में कैंसर की जांच के लिए संचालित पैथोलॉजी लैब में बड़ा फर्जीवाड़ा समाने आया है। यहां दोगुनी कीमत में रीजेंट खरीदे गए हैं। यह खुलासा पुरानी और नई एजेंसी की रेट लिस्ट से हुआ है। अब मामले में जिम्मेदार जांच की बात कर रहे हैं। जानकारी के अनुसार पैथोलॉजी में कैंसर की जांच के लिए रीजेंट, टिसू पेपर और मशीनों की ब्लेड सहित अन्य चीजों की खरीदी समय-समय पर होती है। एक लाख रुपए तक की खरीदी के लिए प्रबंधन कोटेशन निकालकर इनकी पूर्ति कर रहा है।

दो गुने दाम पर खरीद ली ब्लेड
कैंसर के टिसू की जांच के लिए एक्यूज माइक्रोटॉमी ब्लेड की जरूरत होती है। ५० ब्लेड का एक पैकेट आता है। फरवरी में सकुन फार्मा लाजपतपुरा की एजेंसी से यही किट ९ हजार रुपए में खरीदी गई थी। लेकिन नई एजेंसी जय एम्प्लाइंसेस परकोटा से मई में यही किटें १८ हजार रुपए में खरीद गई हैं। जानकारी के अनुसार ब्लेड का उपयोग स्लाइड बनाने से पहले टिसू के टुकड़े करने के लिए किया जाता है। वहीं, स्लाइड को कलर करने के लिए हेमाटॉक्सीलिन डेलाफील्ड की खरीदी में भी फर्जीवाड़ा हुआ है। यह चार गुना दाम में खरीदे गए हैं। तीन महीने पहले यही ३०६ रुपए में खरीदी गई थी। वहीं, नई एजेंसी ने इसे १२३० रुपए में दिया है

हर खरीदी में गोलमाल
जिम्मेदारों द्वारा स्टूल ऑकुल्ट ब्लड रेपिड किट भी ढाई गुना ज्यादा दाम में खरीदी गई है। पहले यह ५ सौ रुपए में खरीदे गई थी। अब १३ सौ रुपए में यह खरीदा गया है। नई एजेंसी ने पुरानी की तुलना में दो से चार गुना महंगे दिए रीजेंट।

डिमांड करते हैं, रेट से काम नहीं
रीजेंट के लिए हम डिमांड करते हैं। किस रेट पर दिया है। इससे हमें कोई मतलब नहीं होता है। यह काम पर्चेस डिपार्टमेंट का काम हैं।
सविता वर्मा, प्रभारी पैथोलॉजी

नितिन सदाफल Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned