शहर के एक्सीलेंस स्कूल में एक्सीलेंट व्यवस्था, इस कारण है प्रदेश में नं. 1 पर

निगरानी सीसीटीवी से

By: manish Dubesy

Published: 16 May 2018, 04:45 PM IST

सागर. एमएलबी स्कूल (क्रं१) के विद्यार्थी अब प्रोजक्टर से पढ़ाई करेंगे। यहां ई-क्लास लगेंगी और अलग-अलग तरीकों से बच्चों को पढ़ाया जाएगा। डिजिटल क्लास के लिए ६ कक्षों में प्रोजेक्ट लगाए गए हैं। यह प्रदेश का पहला सरकारी है, जहां 6 कक्षाओं को स्मार्ट बनाया है।
प्राचार्य वाइएस राजपूत ने बताया कि कक्षाओं में एलसीडी प्रोजेक्टर और कम्प्यूटर लगाए गए हैं। प्रोजेक्टर पर सीडी और पेनड्राइव के माध्यम से बच्चों को अलग-अलग तरीके से पढ़ाई कराई जाएगी। स्कूल शिक्षा विभाग ने ऑनलाइन भी कोर्स अपलोड किया है।
स्कूल के ही कम्प्यूटर
स्कूल में कक्षाओं को डिजिटल बनाने में प्रबंधन को ज्यादा राशि भी खर्च नहीं हुई है। कक्षाओं में लगाए गए कम्प्यूटर पहले से ही स्कूल प्रबंधन के पास थे। बस दो लाख रुपए खर्च करके ही प्रोजेक्टर व अन्य जरूरी उपकरण खरीदे गए हैं।
परिसर में लगाए कैमरे
स्कूल में सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं। इन कैमरों से कक्षाओं की निगरानी की जाएगी। इसका व्यू प्राचार्य कक्ष में दिया गया है, जहां प्राचार्य वाइएस राजपूत सभी कक्षाओं पर नजर रख सकेंगे। अभी गेट के बाहर और मुख्य द्वार पर कैमरे लगे हैं।
०२

लाख योजना के तहत किए जा चुके खर्च
१७००

बच्चे दर्ज हैं स्कूल में अभी वर्तमान में
७२त्न

हाईस्कूल में रहा विद्यार्थियों का परिणाम
७८त्न

बच्चे इस साल १२वीं में उत्तीर्ण हुए

कुएं में मिला युवक का शव

सागर. पुलिस ने चमेली चौक पर स्वामी जी मठ के नजदीक कुएं से अज्ञात युवक का शव
बरामद किया है। सुबह लोगों ने कुएं में शव को उतराता देख इसकी सूचना मोतीनगर थाने
को दी थी। पुलिस ने कुएं से शव को बाहर निकालकर उसकी पहचान कराई, लेकिन कोई
भी मृतक को पहचान नहीं सका। पुलिस ने २६ वर्षीय अज्ञात मृतक के शव को शिनाख्त न
होने पर जिला अस्पताल की मर्चुरी में रखवाकर आसपास के थानों को इसके संबंध में जानकारी दी है।

manish Dubesy Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned