समता एक्सप्रेस के बाद रात नौ बजे तक भोपाल जाने नहीं नियमित ट्रेन

लोगों ने बरौनी-अहमदाबाद एक्सप्रेस का स्टॉपेज दिलाने रेलमंत्री को किए ट्वीट

By: sachendra tiwari

Updated: 09 Jun 2021, 10:22 PM IST

बीना. बीना से भोपाल जाने के लिए समता एक्सप्रेस के बाद रात नौ बजे सचखंड एक्सप्रेस तक कोई भी नियमित ट्रेन नहीं है, जिसके कारण लोगों को परेशानी हो रही है। परेशान लोगों ने पत्रिका मुहिम को एक बार फिर आगे बढ़ाया है और बड़ी संख्या में लोगों ने ट्वीट करके रेलमंत्री व रेलवे अधिकारियों से बरौनी-अहमदाबाद एक्सप्रेस का स्टॉपेज दिलाने की मांग की है। गौरतलब है कि करीब छह माह पहले रेलवे ने अधिकांश ट्रेनों के समय में बदलाव कर दिया है, जिसके बाद शहर के लोगों को शाम चार बजे के बाद करीब पांच घंटे तक भोपाल की ओर जाने के लिए कोई भी नियमित टे्रन नहीं है। कुछ साप्ताहिक टे्रनें चल भी रही हैं तो वह टे्रनें भोपाल न जाकर निशातपुरा से सीधे संतहिरदाराम नगर स्टेशन पहुंचती है। इसलिए लोगों ने बरौनी-एक्सप्रेस का स्टॉपेज दिलाने की मांग की है। इसके लिए लोगों ने पत्रिका की मुहिम को एक बार फिर से आगे बढ़ाया और ट्वीट करके रेलवे से स्टॉपेज की मांग की है। इसमें रेलमंत्री, डब्लूसीआर जीएम, भोपाल डीआरएम को ट्वीट किए है। लोगों का कहना है कि यदि यह ट्रेन बीना में रुकती भी है तो उसके टाइम टेबिल पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा। क्योंकि यह ट्रेन पहले से ही मार्जिन टाइम के साथ चल रही है जिसके बाद दो मिनट का स्टॉपेज आसानी से दिलाया जा सकता है। इसके अलावा यह ट्रेन देश के मुख्य स्टेशन को भी जोड़ती हैं, जिसमें सूरत, खुजराहो, चित्रकूट, प्रयागराज जंक्शन मुख्य रूप से शामिल हैं।
इन्होंने किया ट्वीट
ट्रेनों के समय में बदलाव होने के बाद बरौनी-एक्सप्रेस का स्टॉपेज दिलाने के लिए शहर के रोशन रजक, भूपेन्द्र राय, संजू सिंह ठाकुर, विक्रम ठाकुर, गोवर्धन रजक, ब्रजेन्द्र ठाकुर, निखिल तिवारी, आदर्श सोलंकी, शुभम प्रताप ने ट्वीट किए हैं।
जीएम से की है मांग
बरौनी एक्सप्रेस के बीना जंक्शन पर स्टॉपेज के लिए मंगलवार को निरीक्षण के दौरान ज्ञापन भी सौंपा है। उन्होंने जल्द ही स्टॉपेज का आश्वासन दिया है।
ज्योति दुबे, सदस्य, रेलवे उपभोक्ता मंडल सलाहकार समिति

Show More
sachendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned