बावड़ी के कुएं में सफाई करने उतरे गांव के लोग

Reshu Jain

Publish: Jun, 17 2019 08:01:02 AM (IST)

Sagar, Sagar, Madhya Pradesh, India

सागर. पत्रिका के अमृतं-जलम् अभियान के तहत रविवार को फिर बड़ी संख्या में ग्रामवासियों ने श्रमदान किया। भविष्य गांव में जल संकट न हो इसके लिए ग्रामीण यहां हर रोज सफाई कर रहे हैं। रविवार को पगारा बावड़ी में स्थित कुएं की सफाई करने ग्रामवासी नसेनी लगाकर नीचे उतरे। कुंए से कचरा निकालकर बाहर फेंका। एक-दूसरे को हाथ बढ़ाकर तसलों में भरकर क चरे को बाहर निकाला। बारिश के पहले बावड़ी की सफाई पूरी हो जाएं, इसके लिए यहां मजदूर भी लगाए गए हैं। गंदे पानी को बाहर निकालने के लिए मशीन लगाई गई है।

इस ऐतिहासिक बावड़ी में बारिश के समय झरनों से पानी रिसकर आता हैं। यहां अंदर प्रवेश के लिए चारों ओर द्वार बने हुए हैं। अब अमृतं-जलम् अभियान के बाद ग्रामवासियों को उम्मीद हैं कि भविष्य पेय जल की आपुर्ति इस बावड़ी से होगी। सरपंच काशीराम ने बताया कि वर्षों से यहां सफाई नहीं हुई थी। वर्ष 1995 में पहली बार इस बावड़ी की सफाई की गई तब मालूम चला था कि इसके अंदर कुआं भी है। अब पत्रिका के अभियान से यहां फिर सफाई हो रही है। पत्रिका ने मुहिम छेड़ी है तो प्रशासन का भी सहयोग हमें मिल रहा है। बावड़ी में पुताई भी कराई जाएगी। ताकि शहर के लोगों के लिए भी यह जगह आकर्षण का क्रेंद्र बने।

इन्होंने किया श्रमदान
सरपंच काशीराम, भगत सिंह ठाकुर, लल्लू राव पटेल, चुन्नीलाल पटेल, शुभम आठ्या, नितिन रजक, वैभव रजक, सचिन यादव, कार्तिक कुमार, नैतिक लोधी, हवलदार शिवराम कटारे, नन्हे भाई

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned