भगवत गीता है पवित्र ग्रंथ, स्वाध्याय कर जीवन में करना चाहिए धारण

गीता जयंती उत्सव मनाया

By: sachendra tiwari

Published: 08 Dec 2019, 08:44 PM IST

बीना. विवेकानंद केंद्र कन्याकुमारी शाखा बीना मध्य प्रांत द्वारा रविवार को गीता जयंती उत्सव मनाया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए दशरथ पुरोहित और रत्नाकर चौबे त्रिपुंड ने बताया कि भगवत गीता एक पवित्र ग्रंथ है और सभी को अपने घर में रखना चाहिए ।
इसका नियमित स्वाध्याय कर अपने जीवन में धारण करना चाहिए । भगवत गीता वह ग्रंथ है जिसके अध्ययन से बड़ी से बड़ी समस्याओं का समाधान सरलता से किया जा सकता है और संपूर्ण विश्व को शांति का संदेश देता है। आज भारत के साथ-साथ विश्व में इस ग्रंथ को सम्मान की दृष्टि से आत्मसात किया गया है और सभी भाषाओं में इसका अनुवाद किया गया है। इस अवसर पर उपस्थित लोगों ने कर्म योग श्लोक संग्रह का स्वाध्याय किया। पंकज तिवारी, निवेदिता दीदी द्वारा कार्यकर्ताओं को दिए गए संदेश का वाचन किया । कार्यक्रम में जगन्नाथ वाधवानी, राम शर्मा, भारती लोधी आदि उपस्थित थे ।

sachendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned