सागर. भाजपा के आह्वान पर अतिवृष्टि से नष्ट हुईं फसलों का सर्वे व राहत राशि की मांग को लेकर शुक्रवार को सागर जिले की विधानसभाओं में भाजपाइयों ने धरना प्रदर्शन किया। सागर में नरयावली विधायक प्रदीप लारिया के नेतृत्व में एसडीएम कार्यालय का घेराव कर ज्ञापन सौंपा गया। इस दौरान कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच झड़प भी हुई। कार्यकर्ता यहां लगे बैरिकेट्स को पार करने का प्रयास कर रहे थे, जिस पर पुलिस वालों ने इन्हें रोका।
इस मौके पर पीली कोठी के पास वाले मैदान पर आयोजित धरना प्रदर्शन में सांसद राजबहादुर सिंह ने कमलनाथ सरकार को हर मोर्चे पर विफल बताते हुए कहा कि किसान पीडि़त है और अपने आप को वचन का पक्का कहने वाले कमलनाथ सरकार सो रही है। विधायक लारिया ने कहा कि जब प्रदेश में हमारी सरकार थी तो ओला, तुशार लगने व अतिवृष्टि होंने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान किसी भी ग्राम में पहुंच जाते थे। प्रदेश में हुए नुकसान का आंकलन करा लेते थे। किसानों के खातों में राशि डाल कर राहत देने का काम किया जाता था। लेकिन प्रदेश की कपटनाथ सरकार ने न तो किसानों का कर्जा माफ नहीं किया और न ही मुख्यमंत्री किसी गांव में किसान का दर्द देखने गए। मुख्यमंत्री कमलनाथ को एक पल भी सरकार में रहने का हक नहीं है। यह सरकार वचन पत्र का एक भी वादा पूरा करने वाली नहीं है। जिस दिन किसान तय कर लेगें उसी दिन यह सरकार चली जाएगी। कार्यक्रम को विधायक शैलेन्द्र जैन, तुलसीराम पाण्डे, मुरारी यादव, रामजी मेहर, रामकुमार साहू, लक्ष्मण सिंह, श्याम तिवारी आदि ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में नरयावली विधानसभा क्षेत्र के किसान, पार्टी कार्यकर्ता और पदाधिकारी शामिल थे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned