दो माह से राशन न मिलने से परेशान ग्रामीण दो दिन से अधिकारियों के काट रहे चक्कर

दो माह से राशन न मिलने से परेशान ग्रामीण दो दिन से अधिकारियों के काट रहे चक्कर
Black marketing ration shop memo

Manish Kumar Dubey | Updated: 23 Aug 2019, 04:18:59 PM (IST) Sagar, Sagar, Madhya Pradesh, India

दो माह से राशन न मिलने से परेशान ग्रामीण दो दिन से अधिकारियों के काट रहे चक्कर

सेवास, मढिय़ा के लोग दो दिन पहले तहसीलदार, गुरुवार को एसडीएम को सुनाई व्यथा
गढाकोटा. तहसील अन्तर्गत आने वाले ग्राम सेवास और मढिय़ा में शासकीय उचित मूल्य की राशन दुकान के विक्रेता द्वारा राशन न दिए जाने को लेकर ्ग्रामीण मंगलवार को गढ़ाकोटा में तहसाीलदार यशवंत कुमार कुल्हाड़ा से मिले और गुरुवार को एसडीएम रहली के पास जाकर समस्या सुनाई।
2 दिन पूर्व ग्रामीणों ने तहसीलदार को लिखित में शिकायत दर्ज कराते हुए बताया है कि शासकीय उचित मूल्य की दुकान संचालक भरत दुबे द्वारा माह मार्च व जून का राशन वितरण नहीं किया गया है। वहीं ग्रामीण रोहित पटेल ने आरोप लगाते हुए यह भी कहा गया है कि ग्रामीणों को मिट्टी का तेल नहीं दिया जाता केवल गेहूं व नमक के पैकेट कभी कभार दिए जाते हैं
वहीं भरत दुबे का कहना है कि अगस्त माह का सभी खाद्यान्न आवंटन से आधा आया है इसलिए नहीं बांटा और मार्च का खाद्यान्न मेरे द्वारा बांटा गया है।
इस मामले में तहसीलदार कुल्हाड़ा का कहना है कि ग्रामीणों ने एक आवेदन दिया है जिसपर जांच कराकर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
पीओएस मशीन से किया जा रहा राशन वितरण में कोई भी उपभोक्ता राशन से वंचित नहीं रह पाता जबकि गांव में पता किया जाए तो हर माह करीब करीब 10 उपभोक्ता या तो गांव में नहीं होते या राशन सामग्री उनको प्राप्त नहीं हो पाती उसके बाद भी पीओएस मशीन पूरा आवंटन खत्म होने की जानकारी देता है। आज तक भी किसी भी राशन दुकान पर स्टाक में 1 किलो राशन सामग्री भी स्टॉक में नहीं निकलती है।
ज्ञापन देने के बाद रोहित पटेल ने कहा कि तहसीलदार को ज्ञापन देने के बाद सेल्समैन द्वारा देख लेने की धमकी दी गई है।
ग्राम सेवास, मढिया, खारोतला के लोग ज्ञापन लेकर आए थे। हम फूड इंस्पेक्टर को वहां भेज कर जांच कराएंगे।उनके प्रतिवेदन के बाद ही कार्रवाई करेंगे।
सीएल वर्मा, एसडीएम रहली

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned