बीएमसी की जिम में लगा है ताला, सेहत के फिक्रमंद डॉक्टर और स्टाफ एेसे हो रहे परेशान

बीएमसी की जिम में लगा है ताला, सेहत के फिक्रमंद डॉक्टर और स्टाफ एेसे हो रहे परेशान

manish Dubesy | Publish: Sep, 04 2018 04:33:39 PM (IST) Sagar, Madhya Pradesh, India

उद्घाटन तक सीमित रह गई 20 लाख की जिम

तीन हफ्ते बाद भी नहीं मिल रहा लाभ
सागर. बीएमसी परिसर में रहने वाले डॉक्टरों और मेडिकल छात्रों की सेहत के लिए तीन हफ्ते पहले जिम का उद्घाटन हुआ था। जिसका उद्घाटन कमिश्नर मनोहर दुबे ने किया था। लेकिन उसके बाद से अभी भी जिम में ताला जड़ा हुआ है। उद्घाटन के बाद से इसमें ताला लगा हुआ है। एेसे में यहां रहने वाले विद्यार्थियों को जिम का लाभ नहीं मिल पा रहा है। बताया जाता है कि जिम में अभी भी कुछ सामान नहीं आया है। न ही मेटिंग बिछाई गई है। एेसे में जिम का उद्घाटन कहीं न कहीं खानापूर्ति लग रही है।
20 लाख रुपए हुए थे मंजूर
इस जिम के लिए एक साल पहले 20 लाख रुपए का प्रपोजल शासन को भेजा गया था, जिसे छह महीने पहले मंजूरी मिली थी। जिम का सामान खरीदने की प्रक्रिया में भी छह महीने का वक्त लगा था। अब उद्घाटन होने के बाद भी जिम नहीं खुल पाई है।
कई मेडिकल छात्र एेसे हैं, जो व्यायाम करने के लिए निजी जिम ज्वाइन किए हुए हैं। यहां उन्हें मोटी फीस देनी पड़ रही है। बताया जाता है कि जिम के अंदर मशीनें और मिरर फिट कर दिए गए हैं, लेकिन मेटिंग न बिछाई जाने के कारण यह शुरू नहीं हो पा रही है।
ट्रेनर भी नहीं, कौन देगा ट्रेनिंग
बीएमसी ने जिम तो खुलवा दी है,लेकिन फिटनेस के प्रति मेडिकल छात्रों को कौन सिखाएगा। इसके लिए अभी तक प्रशिक्षण नियुक्त नहीं किया है। जानकारी के अनुसार प्रबंधन इसका जिम्मा खेल प्रशिक्षक को देने वाला है। लेकिन उन्हें ट्रेंड करने का कोई अनुभव नहीं है। प्रबंधन चाहे तो कलेक्टर रेट पर एक हेल्थ प्रशिक्षक को नियुक्त कर सकता है।
तैनाती की जाएगी
जिम में उपकरण आ चुके हैं, तैयारियां भी पूरी हैं। मेटिंग यदि नहीं बिछी है तो मैं दिखवाता हूं। जहां तक हेल्थ प्रशिक्षक की बात है तो उसकी तैनाती की जाएगी।
डॉ. जीएस पटेल, डीन

Ad Block is Banned