अधिक उत्पादकता पर दिया जाता है बोनस, कर्मचारियों को मिले उनका हक

एनएफआइआर के आह्वान पर डब्ल्यूसीआरएमएस ने मांगो को लेकर किया प्रदर्शन

By: anuj hazari

Published: 21 Oct 2020, 09:55 AM IST

बीना. एनएफआइआर के आह्वान पर मंडल कार्यालय व डिपो कार्यालयों में डब्ल्यूसीआरएमएस द्वारा मांगों को लेकर प्रदर्शन किया गया। सोमवार को रेलवे स्टेशन पर कर्मचारियों ने प्रदर्शन करके मांगें पूरी करने की मांग की है। इस दौरान यूनियन के जोनल संगठन सचिव बीएल मिश्रा ने कहा कि बोनस रेलवे की अधिक उत्पादकता पर दिया जाता है इस वर्ष रेलवे ने सबसे ज्यादा उत्पादकता कर रेलवे को पिछले वर्षों की तुलाना में ज्यादा फायदा पहुंचाया है, इसलिए रेल कर्मचारियों को उनका पूरा अधिकार है। डीडी श्रीमाली ने कहा कि रेलवे ने पिछले कुछ समय पहले रेल कर्मचारियों का डीए रोक दिया है एवं नाइट अलाउंस बिजली कर्मचारियों का काटा गया। साथ ही अब बोनस जो कर्मचारियों का अधिकार है उस पर अपनी गंदी निगाह प्रशासन डाल रहा है। लाखन सिंह ने कहा कि लॉकडाउन के समय जब पूरे देश में लोग घरों में थे उस समय भी कर्मचारियों ने लगातार रेलवे का संचालन सुचारू रूप से किया। पूरे भारतवर्ष में सभी वस्तुएं पहुंचाई उसके एवज में रेल कर्मचारी बोनस का अधिकार का रखते हैं। इस दौरान सचिव लोको लाइन शाखा प्रभात उपाध्याय, एसके गौर, आरआर गोस्वामी, सुजीत गोस्वामी, सुनील नायक, सार्थक तिवारी सहित बड़ी संख्या में रेलकर्मी मौजूद रहे।

anuj hazari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned