इस शहर की अधिकांश स्कूलों में नहीं लगे सीसीटीवी कैमरे, सुरक्षा पर उठ रहे सवाल

इस शहर की अधिकांश स्कूलों में नहीं लगे सीसीटीवी कैमरे, सुरक्षा पर उठ रहे सवाल

Anuj Hazari | Publish: Dec, 09 2018 09:00:00 AM (IST) Sagar, Sagar, Madhya Pradesh, India

विद्यार्थियों की सुरक्षा से खिलवाड़

बीना. सागर के एक निजी स्कूल में नाबालिग छात्रा के साथ हुई घटना के बाद जहां पूरे प्रदेश में सनसनी फैल गई है, लेकिन शहर के स्कूल संचालक भी इन घटनाओं के बाद सतर्क नहीं हो रहे हैं। स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाए गए हैं, जिससे वहां पर होने वाली किसी भी गतिविधि पर नजर नहीं रखी जा पा रही है। स्कूल शिक्षा विभाग ने सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सीसीटीवी कैमरा स्कूलों में लगना अनिवार्य किया है, लेकिन किसी भी स्कूल द्वारा इसका पालन नहीं किया जा रहा है। जबकि कैमरे लगाने से काफी हद तक घटनाओं को रोका जा सकता है।
बसों में नहीं कैमरे
स्कूल बसों में भी सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाए गए हैं जबकि स्कूल बसों में भी छोटे बच्चों के साथ घटनाएं सामने आ चुकी हैं। इसके बाद आरटीओ ने भी इसे सख्ती से पालन करने के लिए आदेशित किया था।
बसों ने नहीं महिला अटेंडर
स्कूल बसों में महिला अटेंडर भी छात्राओं की सुरक्षा के लिए होना आवश्यक हैं, लेकिन शहर में चल रहीं किसी भी बस में महिला अटेंडर नहीं हैं। पुलिस और आरटीओ द्वारा इसके लिए कभी भी प्रयास नहीं किए जाते हैं। यदि स्कूल प्रबंधन पर दबाव बनाया जाए तो वह नियम मानने तैयार हो जाएंगे।
स्कूल कर्मचारियों का नहीं पुलिस वेरीफिकेशन
निजी स्कूलों में काम करने वाले किसी भी कर्मचारी का अभी तक पुलिस थाने में जाकर किसी भी स्कूल प्रबंधन द्वारा पुलिस वेरीफिकेशन नहीं कराया गया है। जिस बजह से कर्मचारियों की जानकारी पुलिस के पास नहीं है, जिसमें किसी भी प्रकार की घटना होने के बाद उस पर कार्रवाई करने में परेशानी होती है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned