सागर. संजय ड्राइव के टी-प्वाइंट की अव्यवस्था से लडऩे में नगर निगम और यातायात पुलिस के जिम्मेदारों में इच्छाशक्ति की कमी नजर आ रही है। हालत यह है कि टी-प्वाइंट की दुर्दशा की जानकारी होने के बाद भी दोनों ही एजेंसियों के अफसर कार्रवाई का साहस नहीं उठा पा रहे हैं। बुधवार को पत्रिका की टीम ने एक बार फिर से संजय ड्राइव के टी-प्वाइंट की जमीनी हकीकत देखी तो हालात पहले से भी बदतर नजर आए।
पार्र्किंग का बन गया अड्डा
बुधवार को टी-प्वाइंट से तिली की ओर जाने वाले मार्ग, संजय ड्राइव के दोनों ओर और बस स्टैंड की ओर आने वाले मार्ग पर दो व चार पहिया वाहनों को जमावड़ा मिला। यहां पर करीब १०० से ज्यादा वाहन सड़क पर खड़े मिले। चार्टर्ड बस स्टैंड और निजी अस्पताल आने वाले लोगों के वाहन मुख्य सड़क पर ही कब्जा जमाए मिले। इतनी अव्यवस्था होने के बाद भी बुधवार को जब इस क्षेत्र से महापौर अभय दरे, निगमायुक्त अनुराग वर्मा निकले तो अव्यवस्था को देखे बिना ही आगे बढ़ गए और पार्क का निरीक्षण करते रहे। टी-प्वाइंट पर वाहनों का अतिक्रमण होने के बाद भी नगर निगम की टीम ने सिर्फ एक बार ही इस क्षेत्र में कार्रवाई की है। निगम प्रशासन ने इस छुटपुट कार्रवाई का हवाला देकर ही अब मामले से पल्ला झाड़ लिया है। निगम अधिकारियों की दलील है कि तिली अस्पताल के सामने से दीनदयाल चौराहे तक जल्द ही सड़क का निर्माण कार्य शुरू होने वाला है और तभी मार्ग का सारा अतिक्रमण हटाएंगे।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned