मध्याह्न भोजन के बाद बच्चे करते हैं थाली साफ, लगाते हैं झाडू

प्रतिभा पर्व के दौरान भी स्कूलों में हैं ऐसे हालत

बीना. स्कूलों में तीन दिवसीय प्रतिभा पर्व का आयोजन चल रहा है और अधिकारियों द्वारा स्कूलों का भौतिक सत्यापन किया जा रहा है। इसके बाद भी कुछ शिक्षकों को इसकी परवाह नहीं है और वह बच्चों से थाली साफ करा रहे हैं।
शुक्रवार की दोपहर प्राथमिक स्कूल रेता मुहांसा में मध्याह्न भोजन के समय विद्यार्थी स्वयं ही हैंडपंप पर थालियां साफ करते हुए नजर आए। जबकि इसकी जिम्मेदारी स्व-सहायता समूहों को सौंपी गई है। साथ ही मॉनीटरिंग शिक्षकों द्वारा की जानी है, लेकिन यहां शिक्षकों के सामने ही बच्चे थालियां साफ कर रहे थे। शिक्षकों का कहना था कि समूह वालों को कर्मचारी नहीं मिल रहे हैं, जिसके चलते बच्चों को थाली साफ करनी पड़ रही है। यही नहीं स्कूल में झाडू लगाने का काम भी बच्चे ही करते हैं इसके लिए भी अलग से कोई व्यवस्था नहीं की गई है।
गंदी थालियों में खाते हैं खाना
छोटे-छोटे बच्चे थालियों की सफाई करते हैं और यह थाली सिर्फ पानी से साफ कर दी जाती है, जिससे थालियां अच्छे से साफ ही नहीं हो पाती हैं। थालियां धोने के बाद भी उसमें गंदगी लगी हुई थी। इन्हीं गंदगी थालियों में बच्चे खाना खा रहे थे, जिससे वह बीमार हो सकते हैं।
किया जा रहा है सत्यापन
बीआरसीसी डीसी चौधरी ने बताया कि प्रतिभा पर्व के चलते गुुरुवार, शुक्रवार को स्कूलों का भौतिक सत्यापन किया गया है और आज बालसभा का आयोजन किया जाएगा। सत्यापन में भवन की स्थिति, बच्चों का शैक्षणिक स्तर देखा जा रहा है।

sachendra tiwari
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned