महाविद्यालय की सृजन पत्रिका का हुआ विमोचन

वेबीनार का हुआ आयोजन

By: sachendra tiwari

Published: 29 Dec 2020, 09:15 PM IST

बीना. शासकीय कन्या महाविद्यालय में एक भारत श्रेष्ठ भारत के अंतर्गत वेबीनार का आयोजन और महाविद्यालय की पत्रिका सृजन का विमोचन किया गया। वेबीनार का विषय वर्तमान संदर्भ में भारतीय परंपराओं की सार्थकता था।
प्राचार्य डॉ. चंदा रत्नाकर ने कहा कि भारतीय परंपराएं लोक और विश्वास की नींव पर खड़ीं सशक्त परंपराएं हैं। अनेक परंपराओं में सामूहिकता से कार्य करने का भाव निहित है, अत: हमें इन मजबूत परंपराओं को निरंतर रखना चाहिए। नोडल अधिकारी प्रो. संध्या टिकेकर ने कहा कि शुभ कार्यों में पूजा के दौरान पंचतत्व, ग्राम देवताओं आदि के आह्वान की परंपरा प्रकृति के साथ हमारे संबंधों को मजबूत करती है। मुख्य वक्ता डॉ. उमा लवानिया ने कहा कि भारतीय संयुक्त परिवार की परंपरा तीन पीढिय़ों के जीवन संस्कारों को समृद्ध करती है। कार्यक्रम को प्रभारी डॉ. निशा जैन, छात्रा नंदिनी मुड़ोतिया, सेजल दुबे, शीतल चोटवानी, रेखा अहिरवार ने संबोधित किया। राजीव लोधी ने कार्यक्रम की रिकॉर्डिंग में विशेष सहयोग दिया।

sachendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned