पर्यावरण संरक्षण के लिए स्टेशन पर लगाई क्रश मशीन, नहीं हो रहा उपयोग, पढ़ें खबर

रेलवे स्टेशन पर लगी प्लास्टिक बोतल नष्ट करने क्रश मशीन

By: anuj hazari

Published: 07 Jul 2019, 10:00 AM IST

बीना. पर्यावरण संरक्षण के लिए रेलवे स्टेशन पर बोतल नष्ट करने के लिए क्रश मशीन लगाई गई है, लेकिन इसका उपयोग न तो रेलवे कर्मचारी कर रहे हैं न ही यात्री, जिसके कारण स्टेशन पर जहां-तहां प्लास्टिक की बोतल डली रहती है। गौरतलब है कि पर्यावरण सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने सभी बड़े रेलवे जंक्शन पर प्लास्टिक की बोतल क्रश करने के लिए मशीन लगाए जाने का प्रस्ताव लाया है। जिसके तहत बड़े जंक्शन के बाद अब छोटे जंक्शन व अन्य छोटी स्टेशन जहां पर ज्यादा यात्रियों का आना-जाना रहता है मशीन लगाई जा रही है। इसका उपयोग करने के बाद लोग पर्यावरण को संरक्षित करने व स्टेशन पर सफाई बनाए रखने में अपना सहयोग कर सकते हैं, लेकिन ऐसा नहीं किया जा रहा है।
गंदी बोतल को साफ कर बेंच देते हैं पानी
एप्रोन व प्लेटफॉर्म पर डली खराब बोतलों के लिए कुछ लोगों द्वारा उठा लिया जाता है। जिन्हें ऐसा करने से रेलवे अधिकारी-कर्मचारी यह सोचकर कुछ नहीं बोलते हैं कि सफाई के उद्देश्य से बोतल उठाई जा रही हैं, जबकि हकीकत इससे कुछ अलग है, वह लोग इन बोतलों के लिए साफ करके स्टेशन पर लगे नलों से भरकर पैसेंजर टे्रनों में बेचते हैं। क्योंकि उन टे्रनों में न तो आरपीएफ की ड्यूटी रहती है न ही अन्य कोई अधिकारियों का इस ओर ध्यान जाता है।
ऐसे करती है मशीन काम
बोतल क्रश मशीन में बोतल डालने के बाद उसके छोटे-छोटे टुकड़े हो जाते हैं। इसके लिए लोगों के लिए सिर्फ बोतल को मशीन के अंदर डालना पड़ता है जो सेंसर पर काम करती है जिसके बाद बोतल अंदर चली जाती है जहां पर उसके छोटे-छोटे टुकड़े हो जाते हैं। इसलिए लोगों को पर्यावरण का ध्यान रखकर इसका उपयोग करना चाहिए ताकि उससे बाहर गंदगी न फैले।

anuj hazari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned