गणेश विसर्जन के दौरान मौत के वह मंजर जिनकी याद आते ही कांप जाती है रूह

गणेश विसर्जन के दौरान मौत के वह मंजर जिनकी याद आते ही कांप जाती है रूह
गणेश विसर्जन के दौरान मौत के वह मंजर जिनकी याद आते ही कांप जाती है रूह

Samved Jain | Updated: 13 Sep 2019, 03:32:26 PM (IST) Sagar, Sagar, Madhya Pradesh, India

हर साल गणेश उत्सव और विसर्जन के दिन अपनों की याद हो जाती है ताजा, 2014 से लेकर 2019 तक के वह बड़े हादसे जिनमें लोगों की हुई गणेश विसर्जन के दौरान मौत

सागर/ गणेश विसर्जन के दौरान मौत का वह मंजर कैसा रहा होगा, जब खुशियां अचानक मातम में बदल गईं होगीं। मध्यप्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र में 2014 से 2019 तक हर साल विसर्जन के दौरान मौत की खबर ने भक्तों को मायूस किया है। गणेश विसर्जन के दौरान मौत के वह मंजर जब भी परिजन याद करते है तो उनकी रूह कांप जाती हैं। ऐसे ही कुछ घटनाक्रमों के बारे में आप जानेंगे, जो दमोह, छतरपुर और सागर में गणेश विसर्जन के दौरान हुए हैं।

2014: दमोह में विसर्जन चल समारोह के दौरान ट्रक का ब्रेक फेल, 4 को कुचला, एक की मौत

9 सितंबर 2014 का वह मंजर शायद ही कोई भूला होगा। जब गणेश विसर्जन के दौरान का उल्लास और हर्ष कैसे चींख-पुकार में बदल गया था। गणेश विसर्जन चल समारोह के दौरान सभी भक्त नाचते-गाते हुए अपनी झांकियों के पीछे चल रहे थे। इसी दौरान सिटी नल के पास गल्लामंडी गणेश उत्सव समिति की झांकी जब पहुंची तो अचानक ट्रक का ब्रेक फेल हो गया और वह कैलाश पिता सूरजदीन गुप्ता 52 को रौंदते हुए निकल गया। ट्रक की चपेट में 3 अन्य भी आए, जिन्हें बचा लिया गया था। जबकि कैलाश गुप्ता की मौत हो गई थी। इस हादसे के बाद प्रशासन ने सबक लिया था। हालांकि, रास्ता अब भी नहीं बदला जा सका है। कैलाश गुप्ता के परिजन भी इस हादसे को कभी नहीं भूल पाते।

यह भी पढ़ें: भोपाल में कैसे गई एक साथ 11 लोगों की जान

12_dam_217.jpg

2015: हटा में विसर्जन करने गया युवक नदी में डूबा, मौत

27 सितंबर 2015 की शाम संजय वार्ड हटा निवासी गोविंद पटेल भी बड़े ही उत्साह के साथ गणेश प्रतिमा विसर्जन के लिए घर से गया था। परिवार के लोग भी गणेश भगवान का पूजन अर्चन करने के बाद खुश थे। इसी बीच देर रात खबर आती है कि गोविंद सुनार नदी के नावघाट में डूब गया है। पूरा परिवार मानों थम सा जाता है। रोने-चीखने की आवाजें सुनाई देने लगती है। इधर नदी में डूबे गोविंद को तत्काल ही नदी से निकाल लिया जाता है, लेकिन अस्पताल पहुंचते-पहुंचते उसकी मौत हो चुकी होती है। इस भयंकर हादसे को परिवार के लोग अब भी नहीं भूल पाएं हैं। हर बार गणेश विसर्जन का दिन उनके बेटे की मौत की याद को ताजा कर देता हैं।

यह भी पढ़ें: भोपाल में विसर्जन के दौरान क्या हुआ, देखें वीडियो

12_dam_207.jpg

2017: छतरपुर में दोस्तों के साथ गया था विसर्जन करने, वापस आया शव


5 सितंबर 2017 के गणेश विसर्जन को छतरपुर का शर्मा परिवार भी कभी नहीं भूल पाएगा। आखिर उनके 19 साल के लड़के की मौत जो इस दिन हुई थी। छतरपुर जिले गर्रोली क्षेत्र में स्थित धसान नदी के बेलाघाट पर गणेश विसर्जन के दिन छतरपुर और आसपास के ४ युवक गए थे। जो घाट पर नहाते-नहाते गहराई में चले गए थे। सभी के डूबने की खबर फैलते हुए मौके पर मौजूद लोगों ने तीन युवाओं को डूबने से बचा लिया था। जबकि मोहित शर्मा पिता अजय शर्मा 19 का कोई पता लग सका था, जिसका शव बाद में मिला था।

यह भी पढ़ें: भोपाल हादसे का जिम्मेदार कौन, जानिए 5 बड़े कारण

2017: दमोह में 18 साल के बेटे की हो गई थी जलसमाधि

5 सितंबर 2017 का वह दिन दमोह का सेन परिवार शायद ही कभी भूल पाए। बेटे में गणेश विसर्जन के लिए जाने के लिए उत्साह था। परिजनों ने रोका था, लेकिन बेटे के उत्साह के लिए समझा बुझा कर भेज दिया गया। गणेश उत्सव समिति नोहटा स्थित ब्यारमा नदी के घाट पर गणेश प्रतिमा को लेकर पहुंची। जहां भक्ति भाव के साथ गणेश विसर्जन किया गया, लेकिन इसी दौरान खबर आती है कि समिति के साथ आए अभिषेक उर्फ भूपेश पिता विवेक सेन 18 साल गायब है। तलाश शुरू होती है, लेकिन कोई पता नहीं चलता। बाद में कपड़े उतरे दिखने के बाद नदी में तलाश होती है। अभिषेक की खोज के लिए मौके पर मौजूद तैराकों को भेजा गया। बाद में अभिषेक का शव नदी से निकाला गया था।

2018: तालाब में विसर्जन के बाद नहाने पर मिली मौत

24 सितंबर 2018 को गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान बम्होरी के बाबरी का युवक डूब गया। प्रदीप पटेल नाम का यह युवक गांव के अन्य लोगों के साथ प्रतिमा विसर्जन के लिए आमावनि के तालाब पर गया था। विसर्जन के बाद नहाते समय वह तालाब में गहराई में चला गया और फिर कभी वापस नहीं लौटा। गोताखोरों ने उसकी काफी तलाश की, लेकिन बाद में शव ही प्रदीप का मिला था।

2019: गणेश विसर्जन के दौरान दो युवक बहे, अब तक लापता, खोज जारी

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned