शहर के ज्यादा से ज्यादा युवाओं को रोजगार दिलाने करेंगे प्रयास-सांसद

सरकार और बीओआरएल के अनुबंध की शर्तों का करेंगे अवलोकन

By: anuj hazari

Published: 23 Aug 2020, 09:00 AM IST

बीना. शहर के बेरोजगार युवाओं को रिफाइनरी में रोजगार दिलाने की मांग को लेकर हमेशा ही कोई न कोई आंदोलन होते रहते हैं और मांग पत्र के माध्यम से यह मुद्दा कई बार उठाया भी गया है और अभी तक कोई कदम नहीं उठाया गया है। अब सांसद राजबहादुर सिंह ने इसके लिए प्रयास कर अधिक से अधिक बेरोजगारों को काम दिलाने की बात कही है।
गौरतलब है कि शुक्रवार को सांसद बीना दौरे पर थे, जहां पर उन्होंने पत्रिका से चर्चा करते हुए बताया कि जो मुद्दा उठाया गया है वह शहर के युवाओं के हित में है और इसके लिए जल्द से जल्द प्रयास करके नियमों का अवलोकन किया करेंगे। इसके लिए वह सरकार और रिफाइनरी के बीच में हुए अनुबंध को पढऩे के बाद ही आगे की रूपरेखा तैयार करेंगे। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से मप्र सरकार में कोविड-19 के बाद जो स्थिति बेरोजगारी की बनी है उसे लेकर सरकार ने केवल मप्र के युवाओं को नौकरी देने के लिए कानून बनाने की बात कही है। उसी प्रकार निजी क्षेत्रों में भी स्थानीय स्तर पर युवाओं को रोजगार देने के लिए ठोस कदम उठाया जाएगा। ताकि किसी भी युवा को रोजगार के लिए यहां वहां न भटकना पड़े।
लेवर स्तर का दिया जाता है काम
जब भी इस मुद्दे को उठाया जाता है तो निश्चित ही रिफाइनरी की ओर से भी अपना पक्ष रखकर यह बताया जाता है कि उन्होंने कितने प्रतिशत लोगों को रोजगार दिया है, लेकिन इसमें हकीकत यह सामने आती है कि स्थानीय लोगों को लेवर स्तर पर तो काम दिया गया है, लेकिन तकनीकी पदों पर शहर के युवाओं को नहीं रखा जाता है। यदि बीओआरएल प्रबंधन मुख्य शाखा की बात की जाए तो शहर के महज चार से पांच लोग ही स्थाई पदों पर पदस्थ हैं। बाकी सभी लोग अन्य दूसरी कंपनियों में पदस्थ हैं।

anuj hazari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned