scriptअवैध कॉलोनियों में बांस व लकड़ी की बल्लियों पर केबल डालकर हो रही बिजली आपूर्ति | Patrika News
सागर

अवैध कॉलोनियों में बांस व लकड़ी की बल्लियों पर केबल डालकर हो रही बिजली आपूर्ति

– न सड़क, न नाली, मकान बन गए और बांसों के सहारे कई मीटर तक खींच ली बिजली लाइन – बटालियन के पीछे महात्मा गांधी वार्ड का मामला सागर. अवैध कॉलोनियों के मकडज़ाल में हर चीज उलझी हुई है। रातोंरात बन रहीं अवैध कॉलोनियों में बांस व लकड़ी की बल्लियों के सहारे 200 से 300 […]

सागरJun 03, 2024 / 02:08 am

अभिलाष तिवारी

– न सड़क, न नाली, मकान बन गए और बांसों के सहारे कई मीटर तक खींच ली बिजली लाइन
– बटालियन के पीछे महात्मा गांधी वार्ड का मामला

सागर. अवैध कॉलोनियों के मकडज़ाल में हर चीज उलझी हुई है। रातोंरात बन रहीं अवैध कॉलोनियों में बांस व लकड़ी की बल्लियों के सहारे 200 से 300 मीटर तक बिजली की केबल्स को खींचा गया है। मकरोनिया चौराहे से बटालियन के पीछे की ओर महात्मा गांधी वार्ड में दर्जनों ऐसे मकान बन गए हैं, जहां न तो सड़क है और न ही नाली। यहां पर दो से तीन मंजिला तक के भवन बनकर तैयार हो गए हैं और इनमें बिजली आपूर्ति के लिए जिस तरह खेतों में बिजली की केबल बिछाई जाती है, उसी पैटर्न में यहां भी केबल्स डाल दीं गईं हैं।

छोटे-छोटे भूखंड कर दिए विक्रय

मकरोनिया से महात्मा गांधी वार्ड को जाने वाला रास्ता अब प्रमुख मार्ग बन गया है। यहां से फोरलेन के लिए भी आवागमन जारी है। ऐसे में यहां पर भूमाफियाओं ने छोटे-छोटे भूखंड आम लोगों को विक्रय कर दिए हैं। यहां पर सिर्फ प्लाटों की साइज ही कॉलोनी के नाम पर दी गई है।

जिम्मेदारों को नहीं दिख रही अव्यवस्था

हैरानी की बात यह है कि यहां से बिजली कंपनी का ऑफिस चंद किलोमीटर की दूरी पर ही है, लेकिन उन्होंने कभी इसकी ओर ध्यान नहीं दिया। अवैध कॉलोनियों के कारण शासन-प्रशासन को सबसे ज्यादा मुसीबत उठानी पड़ती है, फिर भी इनकी रोकथाम के लिए अफसर हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं।

शिवसेना ने की कार्रवाई की मांग

उपनगरीय क्षेत्र मकरोनिया में पनप रहीं अवैध कॉलोनियों को लेकर शिवसेना ने मकरोनिया के सीएमओ को ज्ञापन सौंपा और कार्रवाई की मांग की। शिवसैनिकों ने आरोप लगाया कि अवैध कॉलोनियों के कारण क्षेत्र का व्यवस्थित तरीके से विकास नहीं हो रहा है।
तत्काल कार्रवाई करेंगे

कनेक्शन को कोई प्रावधान नहीं है। यह नियम विरुद्ध है। ऐसे मामले सामने आने पर तत्काल कार्रवाई करेंगे। – डीएन चौकीकर, अधीक्षण अभियंता, बिजली कंपनी

Hindi News/ Sagar / अवैध कॉलोनियों में बांस व लकड़ी की बल्लियों पर केबल डालकर हो रही बिजली आपूर्ति

ट्रेंडिंग वीडियो