स्कूलों में लगाए गए बाल मेला, बच्चों ने लगाईं व्यंजनों की दुकानें

स्कूल, कॉलेजों में हुए कार्यक्रम आयोजित

बीना. देश के पहले प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू की जयंती स्कूलों में बाल दिवस की रुप में मनाई गई। स्कूलों में बाल मेला आयोजित हुए, जहां विद्यार्थियों ने खाद्य सामग्री की दुकानें लगाई और स्टाफ सहित अन्य बच्चों ने खरीदी की।
उच्चतर माध्यमिक स्कूल कोंरजा में आयोजित बाल मेला में कक्षा 9 वीं से 12 वीं तक के विद्यार्थियों ने समोसा, गुलाब जामुन, पानी पुरी सहित अन्य व्यंजनों के स्टॉल लगाए। शिक्षकों ने चाचा नेहरू के दिखाए रास्ते पर चलने और उनके जीवन चरित्र के बारे में विस्तार से बताया। इस अवसर पर पंचमसिंह राय, विजय पराते, चिरोंजीलाल पवार, अरविंद बिलगैयां, रश्मि, संजू यादव, जमुना सकवार आदि उपस्थित थे। वहीं माध्यमिक स्कूल बजरिया सहित अन्य स्कूलों में कार्यक्रम आयोजित हुए।
आंगनबाडिय़ों में आयोजित हुए बाल रंग मेले
जयंती पर आंगनबाडिय़ों में बाल रंग मेलों का आयोजन किया गया। ग्राम देहरी स्थित आंगनबाड़ी पर विभिन्न कार्यक्रम हुए, जिसमें सरपंच, महिला बाल विकास परियोजना अधिकारी, कार्यकर्ता, सहायिका उपस्थित थीं। आचवल वार्ड और कानूनगो वार्ड में परियोजना अधिकारी और सुपरवाइजर के मार्गदर्शन में खो-खो, कुर्सी दौड़, आंख मिचौली और ड्राइंग प्रतियोगिता आयोजित हुई, जिसमें प्रथम श्रुति पांडे, अंशिका, कृष्णा, द्वितीय तमन्ना, मंशा, ईसा और तृतीय स्थान अक्षरा, अनुपम, पलक ने प्राप्त किया। इस अवसर पर कार्यकर्ता सुषमा जैन, सहायिका गिरीवाला नामदेव, मंजू साहू, संतोषी साहू, मंजू बुंदेल, ज्योति सराफ, सावित्री यादव, सरोज, आरती आदि उपस्थित थे।
पं. नेहरू ने रखी थी आधुनिक भारत की नींव
शासकीय पीजी कॉलेज में बाल दिवस के उपलक्ष्य में भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरू के व्यक्तित्व, कृतित्व पर संगोष्ठी आयोजित की गई। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जनभागीदारी समिति अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह ठाकुर और मुख्य वक्ता डॉ. सरोज जैन ने कहा कि पं. नेहरू ने आधुनिक भारत की नींव रखी। उन्होंने भारत देश की स्वतंत्रता के बाद पंचवर्षीय योजनाओं से देश का कायाकल्प किया। कृषि, शिक्षा, तकनीकी, उद्योगों का विकास उनके समय में तीव्रतर गति से हुआ। प्रभारी प्राचार्य डॉ. एके जैन, आयुषी सिंघई, नरेन्द्र यादव ने विचार व्यक्त किए। संचालन प्रो. आरएस तिवारी ने किया।
चाचा नेहरू को था बच्चों से प्यार
शासकीय गल्र्स कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि निर्मला सप्रे ने कहा कि चाचा नेहरू को बच्चों और प्रकृति से विशेष प्रेम था। प्राचार्य डॉ. चंदा रत्नाकर ने कहा कि पं. नेहरू ने विश्व के मानचित्र पर भारत की पहचान बनाई। डॉ. रश्मि जैन ने बताया कि मप्र शासन का उद्देश्य पं. नेहरू के दर्शन और विरासत से युवा पीढ़ी को प्रेरित करना है। कार्यक्रम को पीपी नायक, सतीश तिवारी, हरिनारायण कुशवाहा आदि ने कार्यक्रम को संबोधित किया।
बच्चों को वितरित किए लंच बॉक्स
अखिल भारत वर्षीय दिगम्बर जैन महिला पारिषद बाल दिवस के अवसर पर ग्राम कन्नाखेड़ी शासकीय स्कूल में बच्चों को स्कूल बैग, लंच बॉक्स वितरित किया गया। बच्चों द्वारा बालसभा का आयोजन किया गया। इस अवसर पर परिषद की सहसचिव सुनीता सिंघई, अध्यक्ष अर्चना शाह, सचिव स्वाति जैन, सह सचिव सुनीता जैन, गीता चौधरी, मंजुशास्त्री, मीनू शास्त्री, आसमां जैन, शकुन जैन आदि उपस्थित थे।

sachendra tiwari
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned