किसान जल्द शुरू करेंगे बोवनी, नहीं आया सोयाबीन का सरकारी बीज

बाजार में मिल रहा महंगे दामों पर

By: sachendra tiwari

Published: 13 Jun 2021, 10:39 PM IST

बीना. इस वर्ष भी किसानों को सरकारी सोयाबीन का बीज मिलने की उम्मीद कम ही है, क्योंकि बीज की कमी हर जगह बताई जा रही है। अभी तक समितियों में बीज नहीं आया है, जबकि अच्छी बारिश होने बाद अब कुछ दिनों में ही बोवनी शुरू हो सकती है।
क्षेत्र में खरीफ का कुल रकबा करीब ५४ हजार हेक्टेयर है, जिसमें ३५ हजार हेक्टेयर में सोयाबीन की बोवनी का लक्ष्य रखा गया है। एक हेक्टेयर में ७५ किलो सोयाबीन की बोवनी होती है, जिससे लक्ष्य के अनुसार करीब ३० हजार क्ंिटवल बीज की जरूरत है। जिन किसानों के पास पुराना बीज है, तो उन्हें बोवनी करने में दिक्कत नहीं होगी, लेकिन पिछले वर्ष फसल बर्बाद होने के अधिकांश किसान बीज भी सुरक्षित नहीं रख पाए हैं, जिससे अब उन्हें परेशानी हो रही है। सरकारी बीज की स्थिति अभी यह है कि किसी भी समिति ने बीज मंगाने में रुचि नहीं दिखाई है, जिससे अब बीज मिलना मुश्किल है।
बाजार में मिल रहा खुला बीज
किसान मुकेश कुशवाहा ने बताया कि बाजार में खुला सोयाबीन का बीज ९ से १० हजार रुपए क्ंिवटल मिल रहा है, लेकिन यह बीज प्रमाणित नहीं रहता है। साथ ही कुछ कंपनियों का बीज भी बाजार में आया है, जो नया होने के कारण उसपर ज्यादा भरोसा नहीं कर सकते हैं। साथ ही वह भी महंगे दामों पर मिल रहा है।
प्रदर्शन बीज भी नहीं आया कृषि विभाग में
कृषि विभाग में प्रदर्शन बीज आता है, जिसकी किट किसानों को नि:शुल्क वितरित की जाती हैं और दो हजार क्ंिवटल की मांग भी कृषि विभाग द्वारा भेजी गई है, लेकिन अभी तक यह बीज भी नहीं आ पाया है।
तीन इंच बारिश जरूरी
खरीफ की बोवनी के लिए तीन इंच बारिश जरूरी है और अभी करीब दो इंच बारिश हुई है। किसानों को अभी बोवनी के लिए थोड़ा इंतजार करना होगा। सरकारी बीज अभी तक नहीं आया है।
राकेश परिहार, आरएइओ

sachendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned