खेत में बोया गेहूं और पोर्टल पर दिख रही चना की फसल, नहीं हो पा रहे पंजीयन

समर्थन मूल्य खरीदी केन्द्र पर पंजीयन कराने किसान परेशान

बीना. मोबाइल एप से गिरदावरी होने के कारण अब समर्थन मूल्य पर फसल का पंजीयन कराते समय पोर्टल पर खेत में बोई गई फसल दिखने लगती है, लेकिन इस बार किसानों को परेशानी हो रही है। किसानों ने खेत में फसल गेहूं की बोई है और पोर्टल पर चना, मसूर दिख रहे हैं, जिससे पंजीयन में परेशानी हो रही है।
भागनढ़ सहकारी समिति में पंजीयन कराने पहुंचे किसान ऋषभ पटेल ने बताया कि उन्होंने गेहूं की फसल की बोवनी की है, लेकिन पोर्टल पर चना की फसल दिख रही है, जिससे पंजीयन नहीं हो पा रहा है। पोर्टल के अनुसार चना का पंजीयन ही होगा। इस प्रकार कई किसान इस क्षेत्र में परेशान हो रहे हैं। समिति संचालक शंकरलाल ने बताया कि मोबाइल एप से गिरदावरी शुरू होने के बाद किसान द्वारा बोई गई फसल पोर्टल पर दिखती है और उसके अनुसार ही पंजीयन कर रहे हैं। गेहूं की जगह चना की फसल पोर्टल पर दिखने के पीछे गिरदावरी में गड़बड़ी हो सकती है।
गलत पंजीयन होने पर भटकते हैं किसान
यदि किसान का गलत पंजीयन हो जाता है तो उसके बदलवाने के लिए किसानों को भारी मशक्कत करनी पड़ती है। राजस्व विभाग के अधिकारियों के चक्कर काटने पड़ते हैं। पिछले वर्षों में जिन किसानों के पंजीयन गलत हो गए थे कई परेशानियों का सामना करना पड़ा था।
सॉफ्टवेयर में है गड़बड़ी
समिति द्वारा जिस सॉफ्टवेयर से पंजीयन किए जा रहा है उसमें गड़बड़ी के कारण यह स्थिति बनी है। पोर्टल पर दूसरी फसल दिखने की शिकायत आने पर जब खसरा नंबर चैक किया तो उसमें सही फसल आ रही है। गिरदावरी में कोई गड़बड़ी नहीं की गई है।
विनोद अहिरवार, पटवारी

sachendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned