पूर्व पंचायत मंत्री ने कहा-प्रदेश सरकार के इस निर्णय से रुक जाएगा विकास

पंचायतों को मंजूर 800 करोड़ की राशि वापस ले रही है कांग्रेस सरकार, पंचायत कर्मी, सरपंच एवं अधिकारियों की बैठक

By: manish Dubesy

Published: 03 Jan 2019, 03:48 PM IST

रहली. विकास कार्यों में रहली क्षेत्र पूरे प्रदेश में प्रथम स्थान पर है जो काम कहीं नहीं हुए वे रहली क्षेत्र में संभव हुए हैं। बहुत से मूर्त रूप ले चुके है जिनका उपयोग क्षेत्र की जनता कर रही है। वहीं अभी भी कई काम शेष बचे है जो जल्द होंगे। सभी पंचायत कर्मी आपस में तालमेल बना कर कार्य करें और विकास की गति को आगे बढाए। विकास कार्यो की लय सरपंच, सचिव,रोजगार सहायक के मेल से ही तय होती है।
ये तीनों मिलकर कार्य करते है तो कार्यो की गुणवत्ता भी अच्छी होती है और कार्य पूर्ण होने में भी कम समय लगा है। यह बात जनपद पंचायत रहली के नवीन भवन में आयोजन सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक एवं विभागिय अधिकारी कर्मचारीयो की बैठक में पूर्व मंत्री एवं रहली क्षेत्र के विधायक गोपाल भार्गव ने कही। उन्होने बताया कि आज सुनने में आया की प्रदेश की कांग्रेस सरकार पंचायतो से 800 करोड़ की विकास कार्यो की राशि जो हमारी सरकार ने पंचायतों को स्वीकृत कि थी वापस लेने का फैसला लिया है। जब जनता ही फैसला करें की एक हमारी सरकार थी जिसने जनता के लिए खजाने खोल दिए थे और एक ये है जो दिया हुआ पैसा वापस लेने की बात कह रहे है। बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष छोटे सिंह आदिवासी, जनपद अध्यक्ष संजय दुबे, जिला पंचायत सीईओ राहुल पाण्डे, जनपद सीईओ राजेश पटैरिया, इंन्द्रपाल सिंह लोधी, कमलेश तिवारी, एसडीओ आरईएस व्ही के मिश्रा, श्रीराम राजपूत,प्रदीप पाठक मौजूद थे।


सतीष अवस्थी,ज्ञानी अहिरवार, विकास चौरसिया, आशुतोष नेता,रिचा गौतम,रगवर रजक,गोविंद प्रजापति,जयप्रकाश विश्वकर्मा सहित बडी संख्या में सरपंच,सचिव,रोजगार सहायक एवं अधिकारी कर्मचारी उपस्थिति रहे।।

फोटो- रहली 04 बैठक को संबोधित करते अतिथि

 

manish Dubesy Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned