video: झांकी देखने आए चौदह साल के बच्चे को मारा चाकू, गंभीर हालत में जिला अस्पताल रेफर, पढ़ें खबर

video: झांकी देखने आए चौदह साल के बच्चे को मारा चाकू, गंभीर हालत में जिला अस्पताल रेफर, पढ़ें खबर
Fourteen-year-old child who came to see the tableau stabbed the knife, the district hospital referrer in critical condition

Anuj Hazari | Updated: 09 Oct 2019, 11:30:32 AM (IST) Sagar, Sagar, Madhya Pradesh, India

खून में लथपथ हालत में पुलिस लेकर आई अस्पताल

बीना. झांकी देखने आए एक बच्चे को अज्ञात नाबालिग बच्चों ने गले में चाकू मार दिया जो अभी जिंदगी और मौत के बीच झूल रहा है, जिसे इलाज के लिए सागर रेफर किया गया है। जानकारी के अनुसार शिवाजी वार्ड निवासी सुभम पिता मंगलसिंह ठाकुर (14) झांकी देखने के लिए आया था जो आचवल वार्ड में अपने दोस्तों के साथ खड़ा था तभी कुछ बच्चे वहां आए और सुभम के लिए चाकू मारकर चले गए। जब तक वह कुछ समझ पाता खून में लथपथ हालत में वह जमीन पर गिर गया, इसके बाद वहां से निकल रहे एक व्यक्ति ने इसकी जानकारी पुलिस के लिए दी। इसके बाद पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और बच्चे को बाइक से सिविल अस्पताल लेकर आई। जहां पर ड्यूटी पर मौजूद डॉ. अविनाश सक्सेना ने उसका इलाज किया। लेकिन गले में घाव ज्यादा होने के कारण उसे सागर रेफर किया गया है। बच्चे ने पुलिस को बताया कि वह उन्हें पहिले से जानता है लेकिन वह नाम नहीं बता सका।
एसडीओपी और टीआई भी पहुंची अस्पताल
घटना की जानकारी लगते ही थाना प्रभारी मैना पटेल मौके पर पहुंची और बच्चे के बयान दर्ज किए। इसके बाद एसडीओपी ध्रुव राज सिंह चौहान मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली।
गणेश विसर्जन पर भी एक युवक की चाकू मारकर कर दी थी हत्या
गौरतलब है कि पिछले महीने गणेश विसर्जन पर चल समारोह में एक युवक की तीन युवकों ने चाकू मारकर हत्या कर दी थी। उसी प्रकार की घटना आज घटित हुई है। गनीमत रही कि बच्चे को घटना के तुरंत बाद अस्पताल पहुंचाया गया, नहीं तो उसकी जान भी जा सकती थी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned