गिरनार जी में छिपे करोड़ों रुपए के धोखेबाज चिटफंडी भाइयों को पुलिस ने दबोचा

दोनों भाई परिवार सहित गायब होने के बाद कुछ दिन यहां-वहां छिपते-भागते रहने के बाद छह महीने से तीर्थ क्षेत्र की धर्मशाला में डेरा जमाए थे।

By:

Published: 24 Jul 2018, 04:56 PM IST

सागर. आठ माह पहले निवेशकों के करीब चार करोड़ रुपए समेटकर गायब हुए पलक निधि कंपनी के चिटफंडी नितिन और नीतेश जैन को मोतीनगर पुलिस ने गुजरात के जूनागढ़ जिले में स्थित जैन तीर्थ गिरनार जी से गिरफ्तार कर लिया। दोनों भाई परिवार सहित गायब होने के बाद कुछ दिन यहां-वहां छिपते-भागते रहने के बाद छह महीने से तीर्थ क्षेत्र की धर्मशाला में डेरा जमाए थे। वे यहां दिखावे के लिए पूजा-आठ करते रहते थे।
पुलिस ने जब तीर्थ क्षेत्र में स्थित एक गुमटी वाले की मदद से दोनों की पहचान कर उन्हें दबोचा तो उनके होश उड़ गए। पुलिस सोमवार सुबह उन्हें सागर लाई, जहां निवेशकों के करोड़ों रुपए के संबंध में पूछताछ की जा रही है।
कई चिटफंड कंपनियों में लोगों की मेहनत की कमाई जमा कराने के बाद नितिन और नीतेश ने करीब ढाई साल पहले पलक निधि म्युचुअल बेनिफिट नाम से एक कंपनी खोली थी। दोनों भाइयों ने अन्य कंपनियों में लोगों का निवेश कराने वाले एजेंटों को ज्यादा कमीशन का लालच देकर जोड़ा था। दो साल तक कंपनी काम करती रही और नवम्बर २०१७ में अचानक करीब ढाई करोड़ रुपए की नकदी और इतनी की राशि की संपत्ति दूसरे लोगों के नाम कर गायब हो गए थे। मोतीनगर थाने में निवेशकों ने दोनों भाइयों पर धोखाधड़ी का अपराध दर्ज कराया था, जिस पर पुलिस ने कंपनी के कम्प्यूटर और दस्तावेज जब्त किए थे, लेकिन दोनों आठ माह तक पुलिस को चकमा देते रहे।
एजेंट व निवेशकों ने ही कराया गिरफ्तार
चिटफंड कंपनी के कर्ताधर्ता नितिन-नीतेश जैन के झांसे में आकर लाखों रुपए गंवाने वाले एजेंट एवं निवेशकों की मदद से ही पुलिस शनिवार को गुजरात के जूनागढ़ अंतर्गत गिरनार जी तीर्थ क्षेत्र से आरोपियों को गिरफ्तार कर सकी।
जानकारी के अनुसार निवेशकों दबाव से एजेंट परेशान थे। आरोपिनयों ने अपने मोबाइल बंद कर दिए थे और वे परिवार सहित गायब थे। एजेंटों ने मिलकर उनका पता लगाना शुरू किया। इस बीच जैन तीर्थ गिरनारजी में चाय-नाश्ते की गुमटी खोलने वाले सागर निवासी युवक ने दोनों धोखेबाजों की पहचान में उनकी मदद की। पहचान पुख्ता करने के बाद उनके द्वारा पुलिस को इसके बारे में बताया गया और शनिवार को मोतीनगर पुलिस ने तीर्थ क्षेत्र से ही दोनों को दबोच लिया।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned