scriptभगवान हुए बीमार, पंद्रह दिनों तक रहेंगे एकांतवास में, वैद्य करेंगे उपचार | Patrika News
सागर

भगवान हुए बीमार, पंद्रह दिनों तक रहेंगे एकांतवास में, वैद्य करेंगे उपचार

अभिषेक, पूजन के बाद पट हुए बंद, 7 जुलाई को रथ में सवार होकर दर्शन देने के लिए भगवान निकलेंगे नगर भ्रमण पर

सागरJun 23, 2024 / 12:57 pm

sachendra tiwari

God fell ill, will remain in solitary confinement for fifteen days

भगवान का किया गया अभिषेक, पूजन

बीना. श्री हरेराम मंदिर स्थित भगवान जगन्नाथ स्वामी, बहन सुभद्रा और बलदाउ का शनिवार को अभिषेक, पूजन किया गया। इसके बाद भजन कीर्तन किया गया और पुजारी प्रकाश चौबे ने मंदिर के पट बंद किए।
मान्यतानुसार भगवान जगन्नाथ बीमार हो जाते हैं और अगले पंद्रह दिनों तक एकांतवास में समय बिताते हैं। इस दौरान केवल उनके सेवकों को गर्भगृह में जाने की अनुमति होती है। स्वस्थ होने के बाद भक्तों को दर्शन देने के लिए भगवान की रथ यात्रा निकाली जाती है। शनिवार की सुबह 11 बजे हरेराम मंदिर पर श्रद्धालुओं ने भगवान का औषधियुक्त जल से अभिषेक किया। पं. दशरथ पुरोहित ने विधि-विधान के साथ अभिषेक कराया। पूजन के बाद श्रद्धालुओं ने भजन, कीर्तन किया। उन्होंने बताया कि केवल यही एक भगवान हैं, जिनके साथ उनकी बहन रहती हैं। भगवान श्रीराम, भगवान लक्ष्मीनारायण के साथ उनकी बहन दिखाई नहीं देती। उन्होंने बताया कि एक बार उनकी बहन सुभद्रा बीमार हो गईं थीं, तब भगवान ने उनका ज्वर अपने ऊपर ले लिया और वह बीमार हो गए। भगवान बीमार नहीं होते, लेकिन भक्तों व श्रद्धालुओं को दिखाने के लिए लीला करते हैं। लीला रूप में बीमार हुए भगवान जगन्नाथ अगले पंद्रह दिन एकांतवास में रहते हैं। श्रद्धालुओं को उनके दर्शन प्रतिबंधित होते हैं, इस बीच केवल उनके सेवक या पुजारी ही गर्भगृह में प्रवेश करते हैं। अगले पन्द्रह दिन तक रोज वैद्य आकर उनका उपचार करेंगे व आवश्यकतानुसार वह खिचड़ी का भोग लेंगे। पूजन के दौरान बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे। पुजारी ने बताया कि पंद्रह दिन में स्वस्थ होने के बाद भगवान 7 जुलाई को लोगों दर्शन देंगे व उनकी रथ यात्रा निकाली जाएगी।

Hindi News/ Sagar / भगवान हुए बीमार, पंद्रह दिनों तक रहेंगे एकांतवास में, वैद्य करेंगे उपचार

ट्रेंडिंग वीडियो