gold polished jewellery का बढ़ा trend

gold polished jewellery का बढ़ा trend
gold polished jewellery trends

Govind Prasad Agnihotri | Publish: Jun, 19 2019 01:17:20 PM (IST) Sagar, Sagar, Madhya Pradesh, India

पारंपरिक जेवर से बना रहे दूरी

सागर. समय के साथ साथ अब पारंपरिक जेवर की बिक्री में गिरावट आ रही है। इस तरह के जेवर शादी समारोह के लिए खरीदे जा रहे हैं। यही वजह है कि शादी सीजन में आम दिनों की तुलना में इनकी बिक्री में 25 से 35 प्रतिशत का इजाफा रहा। विवाह में दुल्हन को दिए जाने वाले जेवर (चढ़ाव) ज्यादातर मंगल सूत्र, अंगूठी, गले का हार, बेंदी और करधनी ज्यादातर लोगों ने खरीदे। दूसरी ओर गोल्ड पॉलिश वाली ज्वैलरी का चलन बढ़ रहा है। आधुनिक और चांदी के आभूषण पर सोने का पॉलिश वाले जेवर खूब पसंद किए जा रहे हैं। व्यापारी भी इस तरह के जेवरों को ज्यादा मुफीद मान रहे हैं।

 

gold polished jewellery trends


सीजन में 75 प्रतिशत तक होता है व्यापार

बदलते वक्त में आभूषणों का क्रेज भी अब आम लोगों में घट रहा है। कम जेवर खरीने की मानसिकता के चलते सराफा का व्यापार भी प्रभावित हो रहा है। संपन्न लोगों को छोड़ दें तो कीमती आभूषणो के स्थान पर आम मध्यम वर्ग में चांदी के आभूषणों पर सोने का पालिश करा कर खरीदे जा रहे हैं। सराफा व्यापारी अशोक अग्रवाल बताते हैं कि, पिछले साल की तुलना में इस बार शादी के सीजन में अच्छा व्यापार हुआ है। आमतौर पर 50 प्रतिशत होने वाला व्यापार सीजन में 25 प्रतिशत बढ़कर 75 प्रतिशत तक होता है। इस बार खास बात यह रही है कि ज्यादातर लोग सोने के पॉलिश वाले आभूषण पसंद कर रहे हैं।

अग्रवाल कहते हैं कि अब आम लोगों में आभूषण खरीदने की मानसिकता कम हो रही है। भाव में तेजी भी एक कारण है, आभूषण न खरीदने के पीछे। पिछले 15 दिनों में सोने का भाव 33 हजार 400 से 33 हजार 600 प्रति तोला रहा है। इस बाद चांदी के जेवर का कारोबार भी बढ़ा है। ठोस सोना या चांदी के आभूषण बनवाने के बजाय, लोग बने बनाए जेवर खरीदने भी ज्यादा विश्वास कर रहे हैं।

 

gold polished jewellery trends


भाव में नहीं ज्यादा फर्क

सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष गोविंद जडि़या बताते हैं कि, पारंपरिक जेवर मसलन तिदाना, बाजूबंद के बजाए लोग मंगलसूत्र, बेंदी, बिछिया, अंगूठी, गले का हार व पायल ज्यादातर बिक रहे हैं। आभूषण न खरीदने के पीछे आमदनी में कमी और शादि में चढ़ाव की औपचारिकता पूर्ण करना है। सोने के दाम में वृद्धि भी एक कारण है, हालांकि जेवरों का क्रेज अभी है। उन्होंने बताया कि सोने के भाव में ज्यादा फर्क नहीं रहा, पिछले १५ दिनों के भाव में 200 से 500 रुपए कम ज्यादा रहा। सागर में मुंबई के भाव से खरीदी बिक्री होती साथ ही स्थानीय स्तर पर भी सागर सील का सोना मिलता है। मंगलवार को सोना 33450 प्रति तोला, रिफाइन चांदी 38700 प्रति किलो व कच्ची चांदी के भाव 38025 प्रति किलो रहा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned