VIDEO शहर को 24 घंटे पानी उपलब्ध कराने तेजी से चल रहा काम, पाइपलाइन की आई खेप

पंतनगर पानी के टंकी के आसपास पाइपलाइन की खेप उतारे जाने का सिलसिला चल रहा है

By: Satish Likhariya

Published: 01 Jul 2019, 01:15 PM IST

सागर. के्रन के जरिए उतारे जा रहे यह जीआई पाइप पंतनगर स्थित पानी के टंकी के आसपास रखे जा रहे हैं। पिछले दो-तीन दिन से यहां ट्रकों में लाई गई पाइपलाइन की यह खेप उतारे जाने का सिलसिला चल रहा है। ये पाइपलाइन शहर में बिछाई जाना है, ताकि यहां के लोगों को चौबीस घंटे सातों दिन पानी उपलब्ध कराया जा सके। पाइप लाइन बिछाने का काम उपनगर मकरोनिया में चल रहा है। दोनों जगह अब यह काम गति पकडऩे लगा है, हालांकि एजेंसी की लापरवाही के कारण यह प्रोजेक्ट तय समय से काफी पीछे भी चल रहा है।
गौरतलब है कि एशियन डवलपमेंट बैंक (एडीबी) के चौबीस घंटे सातों दिन वाटर सप्लाई के प्रोजेक्ट में एजेंसी से अनुबंध किया गया है। शुरुआती दिनों इस प्रोजेक्ट की डिजाइन व नेटवर्क को तैयार किया गया है। शहर व उपनगर में पाने के पानी की सप्लाई राजघाट बांध से होती है। सागर व मकरोनिया क्षेत्र में पेयजल नेटवर्क बिछाने व राजघाट बांध के संचालन के लिए मप्र अर्बन डवलपमेंट कंपनी लिमिटेड ने मप्र अर्बन सेवाओं इम्प्रूवमेंट प्रोजेक्ट के तहत इंटरनेशनल कॉम्पिटीटिव के तहत काम किया जा रहा है। इसकी टेंडर शर्तों के अनुसार नियुक्त होने वाली एजेंसी डिजाइन, नेटवर्क तैयार करने के बाद अगले दस साल तक राजघाट बांध का संचालन करेगी जिसमें उपभोक्ताओं को पेयजल उपलब्ध कराने के साथ मेंटेनेंस आदि का कार्य भी शामिल है। वर्ष -2018 में चौबीस घंटे सातों दिन शहर में जलाधान होने का विजन रखा गया था।
वर्तमान में राजघाट बांध में पर्याप्त पानी नहीं होने के कारण शहर में पानी की सप्लाई भी गड़बड़ा गई है। यदि दो-तीन दिन में जोरदार बारिश नहीं हुई तो यह स्थिति और बिगड़ जाएगी। फिलाहल बांध में नहर खोदकर और पानी को लिफ्ट करके शहर में जलसप्लाई हो रही है, लेकिन 48 में से ऐसे अनेक वार्ड जहां पर तीन-तीन, चार-चार दिन बाद भी नल नहीं आ रहे हैं।

Satish Likhariya Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned