scriptGovernment bought injections of substandard quality | 750 मरीजों को लगा दिए बेहोश करने वाले 'घटिया' इंजेक्शन, अब मचा हड़कंप | Patrika News

750 मरीजों को लगा दिए बेहोश करने वाले 'घटिया' इंजेक्शन, अब मचा हड़कंप

बड़ी चूक: बगैर जांच रिपोर्ट के प्रदेश में सप्लाई हुए इंजेक्शनों ने खड़े किए सवाल, टेस्टिंग लैब ने रिपोर्ट में इंजेक्शनों को बताया 'नॉन स्टेंडर्ड क्वालिटी'

सागर

Updated: September 10, 2022 04:41:02 pm

आकाश तिवारी

सागर। बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज (bundelkhand medical college) में 750 मरीजों को ऑपरेशन से पहले बेहोश करने के लिए 'घटिया क्वालिटी' के इंजेक्शन लगाने का मामला सामने आया है। इसके बाद प्रबंधन के हाथ-पैर फूल गए हैं। इधर, आनन-फानन में प्रबंधन ने इन इंजेक्शनों के उपयोग पर रोक लगा दी है। इन इंजेक्शनों की सप्लाई शासन स्तर से की गई थी। यह इंजेक्शन प्रदेश के सभी 13 मेडिकल कॉलेजों में छह महीने पहले उपलब्ध कराए गए थे।

injection1.png

इंजेक्शन नॉन स्टेंडर्ड क्वालिटी (substandard quality) के हैं, यह खुलासा इंजेक्शनों की जांच रिपोर्ट से हुआ है। भोपाल की टेस्टिंग लैब ने इनकी जांच की थी, जिसमें सभी इंजेक्शन नॉन स्टेंडर्ड क्वालिटी के निकले थे। आनन-फानन में शासन द्वारा प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेजों से इन्हें वापस मंगा ने पत्र लिखा है। बीएमसी को भी इस संबंध में पत्र मिला है।

बीएमसी (bmc) में यह इंजेक्शन मरीजों की रीड़ की हड्डी के नीचे लगाए गए हैं। इंजेक्शन लगने के बाद किसी भी मरीज के हताहत होने की बात से प्रबंधन इनकार कर रहा है। हालांकि इंजेक्शन अलग करने के बाद मरीजों को दूसरे इंजेक्शन खरीदकर लगवाने पड़ रहे हैं।

मार्च महीने में हुई थी सप्लाई

शासन ने मार्च-अप्रेल माह में बेहोशी वाले 1000 ’रुपिवैक हेवी’ इजेक्शनों की सप्लाई की थी। इंजेक्शन की कीमत काफी कम थी। दो दिन पहले तक की स्थिति में 75 फीसदी इंजेक्शन मरीजों को लगा दिए गए हैं। इन मरीजों में प्रसूताएं व बच्चे भी शामिल हैं।

चंडीगढ़ में बेहोशी वाले इंजेक्शन से पांच लोगों की मौत

पीजीआइ चंडीगढ़ में प्रोपोफॉल (propofol injection) नामक बेहोशी वाला इंजेक्शन पांच मरीजों को लगाया था। इंजेक्शन की क्वालिटी इतनी खराब थी कि बेहोश होने के बाद मरीज वापस नहीं उठे। यह घटना 6 दिन पुरानी बताई जा रही है। डॉक्टरों ने इसका काफी विरोध भी किया था।

इन मेडिकल कॉलेजों में हुई सप्लाई

भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, रीवा, शहडोल, विदिशा, सागर, छिंदवाड़ा, खंडवा, शिवपुरी, दतिया, रतलाम

विदिशा में डॉक्टरों ने किया विरोध

रुपिवैक हेवी इंजेक्शन के संबंध में मप्र के विदिशा मेडिकल कॉलेज (vidisha medical college) के डॉक्टरों ने आपत्ति दर्ज कराई थी। डॉक्टरों का कहना था कि इंजेक्शन से मरीज बेहोश नहीं होते। यह खबर शासन के कानों तक पहुंची थी। इसके बाद शासन ने इंजेक्शन वापस मंगाने के लिए पत्र जारी किए।

मरीजों की सेहत से खिलवाड़

शासन से सप्लाई होने वाली दवाएं और इंजेक्शनों की बकायदा जांच होती है, लेकिन इनकी टेस्ट रिपोर्ट आने से पहले ही मेडिकल कॉलेजों में दवाएं और इंजेक्शन सप्लाई कर दिए जाते हैं। रिपोर्ट नॉन स्टेंडर्ड क्वालिटी आने पर वापस मंगा ली जाती हैं, लेकिन तब तक इनका उपयोग मरीजों पर कर लिया जाता है।

"शासन से जैसे ही पत्र मिला था, हमने इंजेक्शन अलग करा दिए हैं। जितने मरीजों को इंजेक्शन लगे हैं, उनमें से किसी भी मरीज को कोई परेशानी नहीं हुई है। -डॉ. एसके पिप्पल, अधीक्षक बीएमसी"

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

IND vs SA: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम का ऐलान, सभी सीनियर खिलाड़ियों को मिला आरामअरविंद केजरीवाल का बड़ा दावा- 'गुजरात में बनेगी आप की सरकार', IB रिपोर्ट का दिया हवालासच बोलने की सजा भुगतनी पड़ी... बिहार के कृषि मंत्री के इस्तीफे पर BJP ने नीतीश पर किया हमलाअमित शाह के जम्मू दौरे से पहले पुलवामा में आतंकी हमला, पुलिस का एक जवान शहीद, CRPF जवान जख्मीIAF की ताकत में होगा इजाफा, कल सेना में शामिल होगा स्वदेशी हल्का लड़ाकू हेलीकॉप्टर, जानें इसकी खासियतIND vs SA 2nd T20: 2 गेंदबाज जो साउथ अफ्रीका को हराने में टीम इंडिया की मदद करेंगेबिहार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह ने दिया इस्तीफा, डिप्टी सीएम को सौंपा पत्रहिमाचल पहुंचे जेपी नड्डा, BJP जिला कार्यालय का लोकार्पण करने के बाद पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के साथ की बैठक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.