guru pushya nakshatra : खरीदारी के लिए आज दुर्लभ संयोग, फिर 2018 में मिलेगा मौका

Reshu Jain

Publish: Dec, 07 2017 11:27:19 (IST)

Sagar, Madhya Pradesh, India
guru pushya nakshatra : खरीदारी के लिए आज दुर्लभ संयोग, फिर 2018 में मिलेगा मौका

पुष्य नक्षत्र पर बाजार में बरसेगा धन

सागर. इस वर्ष का आखिरी गुरु-पुष्य नक्षत्र गुरुवार को है। पुष्य नक्षत्र बुधवार को रात्रि 9.57 से प्रारंभ हो गया है, जो अगले दिन गुरुवार रात्रि 7.55 तक रहेगा। गुरुवार का पूरा दिन खरीदारी के लिए श्रेष्ठ रहेगा। खरीदारी के लिए इस साल का यह आखिरी शुभ दिन रहेगा। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार गुरु पुष्य खरीदी और शुभ कार्यों के लिए अच्छा माना जाता है।

पं. मनोज तिवारी ने बताया कि इस दिन गुरु-पुष्य के साथ गजकेसरी राजयोग का संयोग भी बन रहा है, जिसके कारण इस दिन की गई खरीदी वस्तु चिर स्थाई लाभ देने वाली होगी। साथ ही इस दिन प्रथम पूज्य गणपति की साधना विशेष फलदायी होती है।

पं. तिवारी ने बताया कि यह दुर्लभ संयोग इस बार कई सालों बाद बन रहा है। खरीदी के लिए सूर्योदय से देर रात तक सिद्धि व अमृत सिद्ध? योग ग रहेंगे। इस साल 12 दिसंबर तक ही शादियों के शुभ मुहूर्त हैं, इसमें की गई खरीदी शुभ मानी जाएगी।

पं. शिवप्रसाद तिवारी ने बताया कि सूर्य ग्रह 15 दिसंबर को मंगल की राशि वृश्चिक से बृहस्पति की राशि धनु में प्रवेश करेंगे। धनुर्मास (मलमास) प्रारंभ होगा, जो 14 जनवरी को समाप्त होगा। तब तक सभी शुभ कार्य वर्जित रहेंगे। शास्त्रों के अुनासर इस दौरान शादी-विवाह सहित अन्य मंगल कार्य वर्जित रहेंगे। सूर्य के बदलने से राजनीतिक घटनाक्रम तेज होगा। शिक्षा संबंधित कार्य में वृद्धि होगी। शिक्षा जगत से जुड़े लोग सम्मानित होंगे। अशुभ राशि पर शारीरिक कष्ट, धन हानि, आर्थिक परेशानी जैसे प्रभाव देखने को मिलेंगे।

30 हजार के नीचे सोना
शादियों के इस सीजन में पुष्य नक्षत्र के संयोग ने बाजार में रौनक की उम्मीद बढ़ा दी है। खासकर सराफा व्यापारियों की उम्मीद बढ़ गई है। व्यापारी शानू सोनी ने बताया कि पुष्य नक्षत्र के ठीक एक दिन पहले बुधवार को सोने के दामों में भी कमी आई है, इसी वजह से उम्मीद बढ़ गई है। सोना 29 हजार 800 (कैडवरी ) प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया है। इससे पहले रेट 30 हजार 300 प्रति ग्राम थे। सस्ते दाम की वजह से सराफा व्यापारियों की उम्मीद बढ़ी है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned