शिकार कर खेत पर जंगली शूकर का मांस पका रहे आरोपियों को आधी रात दबोचा

भैंसवाही गांव के समीप खेत के कुएं पर पका रहे मांस, मुखबिर की सूचना पर की छापामार कार्रवाई।

 

सागर. दक्षिण वन मंडल की ढाना रेंज में जंगली शूकर का शिकार कर फरार हुए तीनों आरोपियों को पकडऩे में वन विभाग के अमले को सफलता मिल गई है। शिकार की आशंका के चलते दो आरोपियों को तो गुरुवार दिन में ही पकड़ लिया था, इसके बाद सूचना पर पहुंची टीएसएफ (टाइगर स्ट्राइक फोर्स) व ढाना रेंज के अधिकारियों की टीम ने दो आरोपियों को गुरुवार की रात 12 बजे के करीब सानौधा थाना क्षेत्र के भैंसवाही गांव के समीप खेत में जंगली शूकर का मांस पकाते हुए रंगे हाथों दबोचा है। जबकि तीसरे आरोपी को शुक्रवार की दोपहर में हिरासत में ले लिया गया है। पकड़े गए सभी पांच आरोपी भैंसवाही गांव के बताए जा रहे हैं जिसमें दो नाबालिग भी शामिल हैं। वन विभाग ने शुक्रवार को कार्रवाई पूर्ण कर ली है शनिवार को सभी आरोपियों को कोर्ट में पेश कर दिया जाएगा।

- खेत पर पका रहे मांस
ढाना परिक्षेत्र के डिप्टी रेंटर अवधबिहारी तिवारी ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर टीएसएफ प्रभारी श्रद्धा पंदरे की टीम व रेंज ऑफिसर दीपक अहिरवार सहित अन्य स्टॉफ भैंसवाही के पास खेत में बने कुए पर पहुंचा जहां पर आरोपी जंगली शूकर का मांस पका रहे थे। टीम को देख आरोपी नीलू धानक मौके से फरार हो गया जबकि दो आरोपियों शंकर अहिरवार व रामदास अहिरवार मांस के सहित हिरासत में ले लिया गया। वन विभाग की टीम ने सुबह करीब 4 बजे नीलू के घर पर दबिश दी और उसके भाई को साथ ले आए, जिसके बाद नीलू ने स्वयं ही शनिवार की दोपहर सरेंडर कर दिया।

मदन गोपाल तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned