scriptIn 1934, the minimum temperature of the ocean had reached 1.7 degrees | 1934 में  1.7 डिग्री पहुंच गया था सागर का न्यूनतम पारा, जनवरी में शीतलहर की चपेट में रहता है जिला | Patrika News

1934 में  1.7 डिग्री पहुंच गया था सागर का न्यूनतम पारा, जनवरी में शीतलहर की चपेट में रहता है जिला

कड़ाके की सर्दी से शहरवासियों दो दिन में थोड़ी राहत मिल गई है। धूप की वजह से तापमान में बढ़ोत्तरी हुई है। रविवार को अधिकतम तापमान २२.७ डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान सामान्य से २ डिग्री कम ८.६ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

सागर

Published: January 04, 2022 09:36:59 pm

सागर.कड़ाके की सर्दी से शहरवासियों दो दिन में थोड़ी राहत मिल गई है। धूप की वजह से तापमान में बढ़ोत्तरी हुई है। रविवार को अधिकतम तापमान २२.७ डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान सामान्य से २ डिग्री कम ८.६ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अगले दो दिन इसी तरह तापमान में हल्की बढ़ोतरी होगी। यह दो डिग्री सेल्सियस तक बढ़ सकता है। कोहरा और सर्द हवाओं के कारण सर्दी रहेगी। यह पश्चिमी विक्षोभ यानी पाकिस्तान से आने वाली नमी भरी हवाओं के कारण हो रहा है।
1934 में  1.7 डिग्री पहुंच गया था सागर का न्यूनतम पारा, जनवरी में शीतलहर की चपेट में रहता है जिला
1934 में  1.7 डिग्री पहुंच गया था सागर का न्यूनतम पारा, जनवरी में शीतलहर की चपेट में रहता है जिला
मौसम वैज्ञानिकों की माने तो 5 जनवरी के बाद एक फिर बारिश के आसार बन रहे हैं। पानी गिरने से मौसम में फिर ठंडक बढ़ जाएगी। मौसम विभाग के अनुसार जनवरी माह सागर शीतलहर की चपेट में है। विभाग की माने तो जिले का सबसे कम न्यूनतम तापमान वर्ष १९३४ में १.२ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। १३ जनवरी को तापमान सबसे कम पहुंच गया था। वहीं जनवरी में सबसे अधिक अधिकतम तापमान २६ जनवरी २००९ में ३३.३ डिग्री दर्ज किया गया था। विभाग की माने तो पश्चिमी विक्षोप की वजह से अति शीतलहर भी जिले में चली है, जब तापमान ६.५ डिग्री के नीचे आया है। विभाग की माने तो इस वर्ष भी बार-बार पश्चिमी विक्षोप की वजह जिला शीतलहर की चपेट में रहेगा।
५ जनवरी से बदलेगा मौसम

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार उत्तर भारत में मौजूद वेदर सिस्टम के असर से मध्‍य प्रदेश में कुहासा एवं ऊंचाई के स्तर पर बादल बने हुए हैं। इस वजह से रात के तापमान में गिरावट का सिलसिला थम गया है। उधर दिन में धूप निकलने से अधिकतम तापमान बढऩे लगा है। इस तरह की स्थिति चार जनवरी तक बनी रह सकती है। पांच जनवरी से एक बार फिर मौसम के मिजाज में बदलाव आने की संभावना है। इसके तहत गरज-चमक के साथ प्रदेश में अनेक स्थानों पर बौछारें पडऩे का सिलसिला शुरू हो सकता है।
पिछले वर्षों ऐसा रहा न्यूनतम तापमान

२१ जनवरी २०१२ - ५.३

७ जनवरी - २०१३ - ९.८

१२ जनवरी २०१४ - ६.९

१३ जनवरी २०१५ - ५.८

२१ जनवरी २०१६- ७.२
१३ जनवरी २०१७ - ४.८

३ जनवरी २०१८ - ६.८

२८ जनवरी २०१९ - ४.०

११ जनवरी २०२० - ५.४

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

कांग्रेस के बाद अब 20 मई को जयपुर में भाजपा की राष्ट्रीय बैठक, ये रहा पूरा कार्यक्रमTRAI के सिल्वर जुबली प्रोग्राम में PM मोदी ने लॉन्च किया 5G टेस्ट बेड, बोले- इससे आएंगे सकारात्मक बदलावपूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिंदबरम के बेटे के घर पर CBI की रेड, कार्ति बोले- कितनी बार हुई छापेमारी, भूल चुका हूं गिनतीकुतुब मीनार और ताजमहल हिंदुओं को सौंपे भारत सरकार, कांग्रेस के एक नेता ने की है यह मांगकोर्ट में ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश होने में संशय, दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में एक बजे सुनवाई, 11 बजे एडवोकेट कमिश्नर पहुंचेंगे जिला कोर्टपूनियां हत्याकांड में बड़ा अपडेट : चौथे दिन भी नहीं हुआ पोस्टमार्टम, शव उठाने को लेकर मृतक के भाई के घर पर चस्पा किया नोटिसहरियाणा: हरिद्वार में अस्थियां विसर्जित कर जयपुर लौट रहे 17 लोग हादसे के शिकार, पांच की मौत, 10 से ज्यादा घायलConstable Paper Leak: राजस्थान कांस्टेबल परीक्षा रद्द, आठ गिरफ्तार, 16 मई के पेपर पर भी लीक का साया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.