युवा अवसरों का लाभ उठाएं और परिश्रम के साथ आगे बढ़ें

अंतरराष्ट्रीय वर्चुअल सेमिनार का हुआ आयोजन

By: sachendra tiwari

Published: 27 Jul 2020, 09:25 PM IST

बीना. शासकीय पीजी कॉलेज की स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन योजना के तत्वावधान में सोमवार को द्वितीय अंतरराष्ट्रीय वर्चुअल सेमिनार का आयोजन किया गया। जिसका विषय कॅरियर जागरूकता एवं देश विदेश में रोजगार के अवसर था।
विषय प्रवर्तक इंदौर से प्रो. आदित्य लुनावत ने कहा कि युवा वर्ग के लिए देश विदेश में कॅरियर की असीम संभावनाएं हैं। युवा अवसरों का लाभ उठाएं और परिश्रम, संकल्प के साथ आगे बढ़ें। तंजानिया से इंद्रभुवान कुमार ने कहा कि कॅरियर का चयन एक चुनौतीपूर्ण कार्य है। युवा अपने कॅरियर का निर्णय स्वयं अपनी रुचि व लगन के आधार पर करें, जिससे अपने लक्ष्य को हासिल कर सकें। बड़ोदरा से विमलेश गौतम ने कहा कि युवाओं को दुनियाभर में रोजगार की अपार संभावनाएं हैं। युवा संकीर्णता से बाहर निकलें और सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ें। प्राचार्य डॉ. एमएल सोनी ने कहा कि युवा जिस क्षेत्र में भी कार्य करें उसमें पूर्ण कुशलता एवं गुणवत्ता के साथ कार्य करें, जिससे जीवन में सफलता प्राप्त हो सके। संयोजक नागेंद्र सिंह यादव ने बेरोजगार युवाओं के लिए देश विदेश के सभी संस्थानों से रोजगार एवं स्वरोजगार के लिए सकारात्मक पहल करने की आवश्यकता पर बल दिया। प्रथम तकनीकी सत्र का संचालन डॉ. मनीषा शर्मा ने किया। सेमिनार को संभागीय नोडल अधिकारी डॉ. नीरज दुबे, गोविंद शर्मा भोपाल, मकरोनिया कॉलेज के प्राचार्य डॉ. एसी जैन, सेडमेप सागर जिला समन्वयक एनएस तोमर, डॉ. जेपी मिश्रा, डॉ. संध्या टिकेकर, डॉ. रश्मि जैन, गौरव सिंह ने संबोधित करते हुए विभिन्ना जानकारियां दीं। द्वितीय तकनीकी सत्र का संचालन मो. रफीक शेख ने किया और समापन सत्र का संचालन डॉ. एके जैन ने किया। सेमिनार में विश्व भर के करीब पंद्रह सौ फैकेल्टी मेंबर्स और विद्यार्थियों द्वारा पंजीयन कराया गया था। इस अवसर पर प्रो. आरएस तिवारी, उमाशंकर तिवारी, डॉ. वीके अग्निहोत्री, डॉ. माहिरा परवीन, डॉ. नमिता अग्निहोत्री, संजय तिवारी, मनोज कुमार आदि सहभागिता की।

sachendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned