टीकमगढ़, पन्ना जिले में सामान्य से कम बारिश

टीकमगढ़, पन्ना जिले में सामान्य से कम बारिश

Manish Kumar Dubey | Publish: Jul, 21 2018 04:11:00 PM (IST) Sagar, Madhya Pradesh, India

आमजनों में भी चिंता बढ़ी

सागर. संभाग का सागर व छतरपुर जिला सामान्य वर्षा की सूची में शामिल हो गया है। दमोह सामान्य से अधिक, टीकमगढ़ व पन्ना जिले सामान्य से कम वर्षा की सूची में शामिल हैं। एक जून से 20 जुलाई तक प्रदेश के 20 जिलों में सामान्य से 20 प्रतिशत अधिक वर्षा दर्ज की गई है। 23 जिलों में सामान्य वर्षा व सामान्य से कम वर्षा वाले जिलों की संख्या आठ है। ऐसे में किसानों ही नहीं आमजनों में भी चिंता बढ़ी है।
फिर किया धूप ने परेशान
सागर शहर में शुक्रवार सुबह से बादल छाए रहे और दोपहर बाद धूप ने परेशान किया। अधिकतम तापमान 28.0 और न्यूनतम तापमान 24.9 डिग्री रहा। मौसम विभाग की माने तो अब 22 जुलाई के बाद फिर बारिश होगी। फिलहाल अभी बारिश के सिस्टम पर ब्रेक लग गया है। शहर में सीजन की औसत बारिश 313.8 मिमी दर्ज की गई है। शनिवार को अधिकतम तापमान 30 डिग्री के पास हो रहा है।

नरयावली विगत दिवस लगातार बारिश होने से नदी नाले उफान पर रहे। नदियों के तेज बहाव में खेतों में लगी फसलें बहकर नष्ट हो गई हैं। अब खाली दिखाई देने लगे हैं। ग्राम पंचायत डाबरी के सरपंच रामगोपाल सिंह ने बताया कि ग्राम धोहा में अतिवृष्टि व बाड़ से फसलों को काफी नुकसान हुआ है। खेतों मिट्टी व फसलें नदी-नाले के तेज बहाव के कारण बह गई हैं। जिससे किसानों को काफी नुकसान हुआ है। सरपंच सहित किसानों ने कलेक्टर को आवेदन देकर मांग की है कि खराब हुई फसलों का शीघ्र सर्वे कर उचित मुआवजा राशि दिलाई जाए। मांग करने वालों में लगन सिंह, टीकाराम लोधी, संदीप सिंह, जगमोहन, संदीप सिंह, रविराज सिंह, गनेश सिंह, गनेश सिंह, प्रहलाद सिंह सहित अनेक किसान शामिल हैं।
राहतगढ़ ब्लॉक की ग्राम पंचायत सेमरामेढ़ा अंतर्गत ग्राम काटीघाटी से सोठिया के बीच की सड़क पर बनी पुलिया पानी में बह जाने के कारण ग्रामीणों को मुसीबत बन गई है। सरपंच अजब सिंह यादव ने बताया कि यह दोनों पुलिया में पाइप डालकर मुरम भर दी गई थी जिससे पानी के तेज बहाव के कारण पूरी सड़क बह गई। जिसके कारण ग्राम जामुनढ़ाना, सोठिया, काटीघाटी व पीपलखेड़ी सड़क मार्ग संपर्क टूट गया है। किसानों को भी परेशानी होने लगी है। ग्रामीण ने लापरवाह ठेकेदार पर कार्रवाई करने की मांग की है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned