scriptन्याय के देवता भगवान शनिदेव का तेल-तिल से हुआ अभिषेक, इमरती और दही बड़ा का लगा भोग | Patrika News
सागर

न्याय के देवता भगवान शनिदेव का तेल-तिल से हुआ अभिषेक, इमरती और दही बड़ा का लगा भोग

शनि जयंती पर गुरुवार को शनि मंदिरों में न्याय के देवता को मनाने के लिए सुबह से लेकर देर रात तक भक्तों ने तेल व तिल से अभिषेक किया।

सागरJun 07, 2024 / 08:47 pm

रेशु जैन

shani

shani

शनि जयंती के मौके पर शहर के शनि मंदिरों में उमड़ी भक्तों की भीड़

सागर. शनि जयंती पर गुरुवार को शनि मंदिरों में न्याय के देवता को मनाने के लिए सुबह से लेकर देर रात तक भक्तों ने तेल व तिल से अभिषेक किया। पहलवान बब्बा मंदिर, चकराघाट स्थित शनिधाम, देव भूतेश्वर मंदिर , परेड मंदिर, दादा दरबार, कठवापुल हनुमान मंदिर, कांच मंदिर मछरयाई एवं चंपाबाग सहित विभिन्न शनि मंदिर में भक्तों ने अभिषेक पूजन कर शनि चालीसा का पाठ किया।
कबूलापुल शनि मंदिर में ब्रह्म मुहूर्त से शुरू हुआ तेलाभिषेक देर रात तक चलता रहा। इस मौके पर फूल बंगला सजाया गया। भगवान शनि देव के प्रिय तिल गुड़ खीर एवं खिचड़ी का भोग लगाया गया। भंडारे एवं भजन कीर्तन का आयोजन हुआ। पंडित सुनील शर्मा ने बताया की प्राचीन शनि मंदिर में शनि महोत्सव की परंपरा कई साल पुरानी है। जहां लगातार कई वर्षों से शनि जन्म पर विराट महोत्सव होता है मंदिर में सुबह से ही श्रद्धालुओं का आना शुरू हो गया था। यह सिलसिला देर रात तक लगा रहा। इस अवसर पर पंडित शुभम शास्त्री, रवि, मोनू, सुशील शर्मा, विष्णु साहू, अब्बी साहू, अनिल केसरवानी, राजा ठाकुर, राजू भाऊ, आकाश सेन, शिवांश सोनी, दीपक लोधी, प्रमोद विश्वकर्मा, सितांशु सेन आदि मौजूद रहे।
शनिदेव को इमरती का लगा भोग

शनि जयंती पर देव भूतेश्वर मंदिर में स्थित शनिधाम में न्याय के देवता का तेल से भक्तों द्वारा तैलाभिषेक किया गया। मंदिर के प्रवक्ता विकास तिवारी ने बताया कि सुबह भगवान शनिदेव का गंगाजल से स्नान कराया गया । इसके बाद भक्तों द्वारा सरसों के तेल से तैलाभिषेक कर इमरती का भोग लगा गया। इसके बाद भक्तों में प्रसादी का वितरण किया गया।
बालाजी मंदिर में लगा दही बड़ा का भोग

मंशा पूरन बालाजी मंदिर धर्मश्री में शनि जयंती यहां धूमधाम से मनाई गई। दोपहर 12 बजे से शनिदेव महाराज को 21 लीटर सरसों के तेल से अभिषेक हुआ। इसके साथ 50 किलो उड़द दाल की खीर, 50 किलो उड़द दाल की इमरती और 1008 दही बड़े का भोग का भोग लगाया। खिचड़ी एवं देशी घी से बने हुए मगद के लड्डू एवं अन्य मिष्ठान का भोग लगाया गया मंदिर के पुजारी जयनारायण दुबे ने बताया कि मंदिर में बड़ी संख्या में भक्तों की भीड़ उमड़ी।

Hindi News/ Sagar / न्याय के देवता भगवान शनिदेव का तेल-तिल से हुआ अभिषेक, इमरती और दही बड़ा का लगा भोग

ट्रेंडिंग वीडियो