डिजीटल होगी भुगतान प्रक्रिया, ऑनलाइन ले सकेंगे एलटी व अस्थाई बिजली कनेक्शन

डिजीटल होगी भुगतान प्रक्रिया, ऑनलाइन ले सकेंगे एलटी व अस्थाई बिजली कनेक्शन

Madan Gopal Tiwari | Publish: May, 18 2019 08:00:00 AM (IST) Sagar, Sagar, Madhya Pradesh, India

बिजली कंपनी में बिल काउंटर के बाद अब अन्य प्रकार के जमा काउंटर भी होंगे बंद।

सागर. यदि अब आपको घर में नया बिजली कनेक्शन या फिर किसी शादी-विवाह, मेले या अन्य कार्यक्रमों के लिए अस्थाई बिजली कनेक्शन लेना है तो इसके लिए बिजली कंपनी नहीं जाना पड़ेगा। कंपनी ने मई से एक नई व्यवस्था शुरू कर दी है, जिससे वह घर बैठे या फिर एमपी ऑनलाइन से कनेक्शन के लिए आवेदन कर सकता है। आवेदन करने के बाद राशि से संबंधित डिमांड नोट मिलेगा और यह राशि भी उपभोक्ता को ऑनलाइन ही आवेदन नंबर व अन्य डिटेल के साथ जमा करनी होगी। इसमें बिजली कंपनी को तो फायदा होगा ही, लेकिन सबसे बड़ा फायदा उपभोक्ताओं को होगा, क्योंकि उन्हें कंपनी में सक्रिय दलालों से निजात मिलेगी।

बंद होंगे काउंटर
बिजली कंपनी शहर सहित अंचल में पहले ही बिल काउंटर को बंद कर ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू कर चुकी है। इसके आद अब एलटी व अस्थाई कनेक्शन की ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू करने के बाद कार्यालयों में खुले राशि जमा करने वाले काउंटर को भी जल्द बंद करने जा रही है।

ऑनलाइन वापस जा जाएगी राशि
अस्थाई कनेक्शन लेने वाले उपभोक्ताआें द्वारा जमा अमानत राशि में से शेष बची रकम को पाने के लिए उपभोक्ताओं को बिजली कंपनी के चक्कर नहीं काटने होंगे। नई व्यवस्था के तहत ऑनलाइन आवेदन देने के बाद कनेक्शन की अवधि पूरी होते ही सीधे उपभोक्ता के खाते में राशि आएगी। अभी तक अस्थाई कनेक्शन लेने वालों को आवेदन देने के साथ ही अमानत राशि जमा करनी होती थी। कार्यक्रम के बाद यूनिट के आधार पर बिल तय होता था और उसके बाद संबंधित उपभोक्ता को बिल के बाद शेष बची राशि अपने अन्य मीटर कनेक्शन में समायोजित करानी होती थी। उसके लिए भी आवेदक को बिजली कंपनी के कई चक्कर काटने पड़ते थे। जिसमें 15 दिन से एक माह तक का समय लग जाता था।

ऐसे करना होगा आवेदन
स्मार्ट बिजली एप के माध्यम से अब लोगों को अस्थाई कनेक्शन के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। ऑनलाइन ही डिमांड नोट बनेगा और राशि भी नेट बैंकिंग, एटीएम के माध्यम से उपभोक्ता को जमा करानी होगी। उसके साथ ही उपभोक्ता को अपना बैंक खाता नंबर या दूसरा मीटर कनेक्शन नंबर देना होगा। अस्थाई कनेक्शन की अवधि पूरी होते ही ऑनलाइन बिलिंग होगी और अमानत राशि से बाकी बची रकम को संंबंधित उपभोक्ता के बैंक खाते या दूसरे बिजली कनेक्शन के बिल में समायोजित कर दिया जाएगा।

व्यवस्था लागू कर दी गई है
यह व्यवस्था लागू कर दी गई है, लोग एप या ऑनलाइन प्रक्रिया से जुड़कर कनेक्शन के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसमें किसी प्रकार का अतिरिक्त चार्ज उपभोक्ता को नहीं देना होगा, जल्द ही जिले के अन्य जमा कांउटर भी बंद किए जाएंगे।

जीडी त्रिपाठी, अधीक्षण अभियंता, सागर

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned