Interesting यहां निकली एक कागज की अर्थी, महिलाएं भी हुईं शामिल, चौराहे पर दी मुखाग्नि, यह है मामला

आशा कार्यकर्ता बोलीं हमें नियमित करो..

By: Samved Jain

Published: 13 Mar 2018, 10:04 AM IST

सागर. मांगों को लेकर हड़ताल कर रहे संविदा स्वास्थ्यकर्मियों ने सोमवार को एनएचएम के सेवा समाप्ति आदेश के विरोध में अर्थी बनाकर शव यात्रा निकाली। यह यात्रा सीएमएचओ कार्यालय से परकोटा, तीन बत्?ती, कटरा मस्जिद होते हुए वापस तीन बत्ती पहुंची। इस दौरान शासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए कर्मचारियों ने आदेश के पुतले का जलाया।


संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष अमिताभ चौबे ने कहा कि यह शवयात्रा निकाल कर हमनें सरकार को स्पष्ट संदेश दे दिया है कि पूरे संविदकर्मी एकजुट हैं। उन्होंने कहा कि शासन अपने आदेश का डर दिखाकर हड़ताल समाप्त कराना चाहता है, लेकिन जब तक नियमितीकरण नहीं होता है तब तक हड़ताल जारी रहेगी। शवयात्रा के तीनबत्ती पहुंचने पर रामकुमार श्रीवास्तव ने पुतले का अंतिम संस्कार किया। कार्यक्रम को डॉ. नीतेश दुबे, डॉ. राजेन्द्र तिवारी, ललित विश्वकर्मा व कमल मिश्रा ने भी संबोधित किया।


जानकारी के मुताबिक एनएचएम द्वारा संविदाकर्मियों को दी गई हड़ताल खत्म की मोहलत सोमवार को खत्म हो गई। आदेश की मानें तो प्रदेश के १९ हजार संविदाकर्मी नौकरी से हाथ धो बैठे हैं। जिले में करीब ४०० संविदाकर्मी हैं।

 

आशा कार्यकर्ता बोलीं हमें नियमित करो..


सागर. विगत दिनों आगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने अपनी मांगों को लेकर लगातार तीन सप्ताह तक हड़ताल जारी रखी। आशा कार्यकर्ताओं को टीकाकरण एवं प्रसूता मदद के बाद भी केवल सहयोग राशि दी जाती है परंतु वेतन नहेीं । यह आरोप जिला कांग्रेस अध्यक्ष हीरा सिंह राजपूत ने नियमतिकरण की मांग को लेकर हड़ताल पर बैठी आशा कार्यकर्ताओं को संबोधित कहीं। उन्होंने कहा कि आशा कार्यर्ताओं को नियमित करने की मांग की एवं एएनएम कर्मियों की वेतन विसंगति दूर की वकालत की। राजपूत ने कहा कि यदि भाजपा सरकार सभी तरह की मांगों पर विचार नहीं करती है तो अगले विधानसभा चुनाव में में कांग्रेस की सरकार बनते ही सभी वर्ग के कर्मचारियों को उनका अधिकार दिया जाएगा। इस अवसर पर सुरखी के ब्लाक कांग्रेस अध्?यक्ष डॉ. बहादुर सिंह, उपाध्यक्ष सरमन सिंह मिडवासा, शिवनंदन दुबे, विक्रम सिंह सागौनी, पप्पू फुसकेले, हिमेश गौर आदि उपस्थित थे।

Show More
Samved Jain
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned