बंद करने का दिया था आदेश, खुलने का आदेश मिले तब खोलेंगे सिनेमा हॉल

सात महीने से हैं बंद, संचालकों को हुआ भारी नुकसान

By: anuj hazari

Published: 18 Oct 2020, 09:51 AM IST

बीना. सिनेमा हॉल बंद होने के बाद संचालकों के लिए भारी नुकसान हुआ है, लेकिन अब जब सरकार ने सिनेमा हॉल को सोशल डिस्टेंस से खोलने के आदेश दिए हैं तब भी सिनेमा हॉल खोलने पर संशय बना हुआ है। संचालकों ने कहा कि जैसे सरकार ने सिनेमा हॉल बंद करने के लिए व्यक्तिगत आदेश दंडाधिकारी अधिकारी के माध्यम से भेजे थे, यदि खोलने के आदेश नहीं मिलते हैं तब तक सिनेमा हाल नहीं खोलेंगे। गौरतलब है कि कोरोना की मार टॉकीज संचालको भी झेलनी पड़ी है, क्योंकि इन्हें कोरोना संक्रमण के कारण सबसे पहले बंद किया गया था और सबसे बाद खोलने के आदेश मिले हैं। सिनेमा हॉल में भी सोशल डिस्टेंस, सैनिटाइजर सहित अन्य व्यवस्थाएं जो कोरोना संक्रमण रोकने के लिए गाइडलाइन है उनका पालन करना होगा।

हजारों रुपए बिजली बिल और कर्मचारियों को देनी पड़ी सैलरी
सात महीने से बंद होने के बाद भी हजारों रुपए बिजली बिल भरना पड़ा है इतना ही नहीं कर्मचारियों की सैलरी भी जेब से ही देनी पड़ी है, क्योंकि कर्मचारी मालिक के सहारे ही थे।

पचास प्रतिशत रहेगी दर्शकों की संख्या
सिनेमा हॉल खुलने के बाद एक सीट के अंतर से दर्शकों को बैठने की अनुमति रहेगी। इस प्रकार से कुल पचास प्रतिशत दर्शक ही सिनेमा हॉल में फिल्म देख सकेंगे।

आदेश के बाद खोलेंगे
कोरोना महामारी के कारण सरकार के आदेश के बाद दंडाधिकारी ने आदेश जारी कर व्यक्तिगत भेजे थे, जिसके बाद टॉकीज बंद की गई थी। अब खोलने का आदेश भी इसी प्रकार मिले तब ही सिनेमा हॉल खोलेंगे।
प्रमोद कुमार व्यास, सिनेमा हॉल, संचालक

anuj hazari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned