scriptPatients in ICU in corona second wave are at risk of Omicron variants | दूसरी लहर में आइसीयू में रहे मरीजों को ओमिक्रॉन वेरिएंट का खतरा ! | Patrika News

दूसरी लहर में आइसीयू में रहे मरीजों को ओमिक्रॉन वेरिएंट का खतरा !

वेरिएंट कितना खतरनाक है, जानने के लिए 350 स्वस्थ हो चुके मरीजों पर रखी जाएगी नजर

सागर

Updated: December 25, 2021 09:40:00 pm

सागर. देश भर में ओमिक्रॉन वेरिएंट की वजह से तीसरी लहर का खतरा बना हुआ है। प्रदेश सरकार ने आनन-फानन में नाइट कर्फ्यू लागू कर लोगों को सतर्क रहने की समझाइश भी दे दी है। इसी कड़ी में बीएमसी के विशेषज्ञ भी मरीजों को लेकर सतर्क हो गए हैं। बताया जाता है कि कोविड की दूसरी लहर में गंभीर रूप से बीमार होने वाले मरीजों पर इस वेरिएंट का कितना खतरा रहेगा या नहीं, इस पर नजर रखने के लिए विशेषज्ञ ऐसे मरीजों का फॉलोअप लेंगे। ताकि यह मालूम हो सके कि यह वेरिएंट कोविड की दूसरी लहर में कोविड की चपेट में आए मरीजों को नुकसान पहुंचायेगा या नहीं।

omicron_3.jpg

दूसरी लहर में गंभीर रहे मरीजों पर रखी जाएगी
नजर टीबी एंड चेस्ट विभाग के एचओडी डॉ. तल्हा साद के मुताबिक यदि तीसरी लहर आती है तो कोविड की दूसरी लहर में संक्रमित निकले मरीजों को सतर्क रहने की जरूरत है। खासतौर पर ऐसे मरीज जो आईसीयू से डिस्चार्ज होकर घर पहुंचे हैं। डॉ. साद बताते हैं कि दूसरी लहर में 750 से अधिक मरीज आईसीयू में भर्ती हुए थे, जिनमें से सिर्फ 50 फीसदी मरीज स्वस्थ्य हो पाए थे। 350 मरीजों पर नजर रखने के लिए इनका नियमित फॉलोअप लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें

तीन कदम पीछे हटने से माता-पिता से हमेशा के लिए दूर हुआ मासूम



सैंपलों पर भी रखी जाएगी नजर
शासन स्तर से कोविड मरीजों की जांच को लेकर भी नए दिशा निर्देश जारी हुए हैं। जानकारी के मुताबिक अब जितने भी संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं। उन सभी की जीनोम सीक्वेंसिंग कराई जाएगी। वहीं, सभी मरीजों का आरटीपीसीआर टेस्ट होगा।

यह भी पढ़ें

सुहागरात पर जीजा ने फोन कर कहा था- उससे दूर रहना वो मेरी है, जानिए पूरा मामला



पहली लहर में संक्रमित मिले लोगों पर हुई रिसर्च
जानकारी के मुताबिक कोरोना की पहली लहर में बीएमसी के आइसीयू में 410 मरीज भर्ती हुए थे। उनमें से 287 स्वस्थ होकर घर पहुंचे थे। अन्य की कोविड की वजह से जान चली गई थी। डॉ. तल्हा साद ने बताया कि जब दूसरी लहर आई थी तब इन मरीजों का फालोअप लिया गया था। राहत की बात यह थी कि 287 मरीजों का फॉलोअप लिया गया था। इनमें से एक भी मरीज दोबारा गंभीर स्थिति में नहीं पहुंचा था।

देखें वीडियो- क्रिसमस पर पुलिस ने लौटाई मां की खुशी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

UP Election 2022: वर्चुअल रैली में कोविड नियमों के उल्लंघन पर सपा को नोटिस, 24 घंटे में जवाब मांगाweather news : धौलपुर @2 डिग्री, गलनभरी सर्दी ने लोगों को ठिठुरायाMinister of State for Sports Ashok Chandna : खेल राज्यमंत्री अशोक चांदना ने 32 करोड़ लागत के विकास कार्यों की रखी आधारशिलाप्रत्याशियों के लिए खर्च की सीमा तय,इन दरों से प्रत्याशियों को देना होगा हिसाबअचानकमार टाइगर रिजर्व की सैर हुई महंगी, अब जिप्सी के लिए 3500 और रिसॉर्ट के लिए लगेंगे 3 हजारचंदा जुटाकर भारतीय हैण्डबॉल टीम 20वीं एशियन पुरुष हैण्डबॉल चैंपियनशिप में लेगी हिस्साकरमा नृत्य पर थिरके आदिवासी समाज के लोग, कुर्सी व चम्मच दौड़ भी लगाईहड्डियों से चिपक गया था मांस, इलाज मिला तो कुपोषण को हराया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.