अमावनी में घरों से बड़े हो गए कचरा के ढेर, सांस लेना दूभर

अमावनी में घरों से बड़े हो गए कचरा के ढेर, सांस लेना दूभर

Sanket Shrivastava | Publish: Sep, 10 2018 11:03:32 AM (IST) Sagar, Madhya Pradesh, India

स्थानीय लोग आधा दर्जनवार कर चुके हैं प्रदर्शन

सागर. अमावनी के ट्रेंचिंग ग्राउंड पर नगर निगम प्रशासन और कचरा एजेंसी रैमकी इन्वायरो प्राइवेट लिमिटेड की लापरवाही से क्षेत्र की स्थिति बेहद दयनीय हो गई है। यहां कचरा के ढेर घरों से भी ऊंचे हो गए हैं। स्थिति यह है कि स्थानीय लोगों का सांस लेना भी दूभर हो गया है। पत्रिका की टीम ने अमावनी के ट्रेंचिंग ग्राउंड को लेकर किए जाने वाले निगम प्रशासन के दावों की पड़ताल की तो हालात चौकाने वाले मिले। आसपास बने आवासों के साथ पूरे मैदान पर कचरा के बड़े-बड़े ढेर टुकड़ों में देखने को मिल रहे हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि पूर्व में कचरा एजेंसी द्वारा यहां पर कचरा को समतल किया जाता था और वह परत लगभग ६ फीट तक ऊंची हो गई है। इसके बाद अब बड़े-बड़े कचरा के ढेर लग गए हैं।

इधर, मसवासी ग्रंट में कछुआ गति से चल रहा निर्माण कार्य
करीब एक महीने पहले प्लांट लगाने के लिए मिल चुकीं हैं सभी प्रकार की प्रशासनिक मंजूरी

धीमी गति से चल रहा काम
मसवासी ग्रंट में सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट के लिए सभी प्रकार की प्रशासनिक स्वीकृतियां मिलने के बाद भी धीमी गति से निर्माण कार्य चल रहा है। जानकारी के मुताबिक करीब ५ महीनों से मसवासी ग्रंट में सिर्फ लेंड फिलिंग का काम भी किया जा रहा है। बाउंड्रीवाल के निर्माण कार्य में भी अपेक्षाकृत प्रगति नहीं देखी जा रही है।

कीटनाशक दवाओं का नहीं हो रहा छिड़काव
अमावनी के स्थानीय लोगों का आरोप है कि नगर निगम प्रशासन की ओर से ट्रेंचिंग ग्राउंड पर नियमित रूप से दवाओं का छिड़काव नहीं किया जा रहा है। यही वजह है कि क्षेत्र में लोगों को मच्छरों व बदबू का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि निगम प्रशासन कीटनाशक दवाओं के छिड़काव का हर बार सिर्फ निर्देश बस देता है लेकिन जमीनी स्तर पर कोई प्रयास नहीं किए जा रहे हैं जिसके कारण क्षेत्र की स्थिति बेहद दयनीय हो गई है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned