चौदह साल से फरार गौवंश तस्करी के स्थाई वारंटियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

एसडीओपी ने की थी टीम गठित

By: sachendra tiwari

Published: 14 Sep 2021, 08:04 PM IST

बीना. चौदह साल से फरार स्थाई वारंटियों को पुलिस ने राहतगढ़ से गिरफ्तार किया है। इसके लिए एसडीओपी ने टीम गठित की थी, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर खुरई कोर्ट में पेश किया, जहां से जेल भेज दिया। वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा थानाप्रभारी को स्थाई वारंटियों को पकडऩे के लिए अभियान चलाने के लिए निर्देश थे। इसके बाद एसडीओपी उदयभान बागरी ने खिमलासा थानाप्रभारी मीनेश भदौरिया, प्रधान आरक्षक धर्मेन्द्र शर्मा, आरक्षक राहुल दुबे, नईबस्ती चौकी में पदस्थ जितेन्द्र धाकड़ की टीम गठित कर स्थाई वारंटियों की तलाश कराई। खिमलासा में चौदह वर्ष पहले वर्ष 2007 में गौतस्करी के मामले में गौवंश अधिनियम के तहत कार्रवाई की थी, जिसमें पांच आरोपी अब्दुल लतीफ पिता इज्जत नूर मुसलमान (50), शादिक पिता अहमद नूर मुसलमान (43), मुन्ना उर्फ शरीक पिता शेखली चुन्ना मुसलमान (57), शकील पिता जमील अहमद मुसलमान (39), मेहरुद्दीन पिता अब्दुल रहमान मुसलमान (48) निवासी राहतगढ़ को आरोपी बनाया गया था, जो घटना के बाद से फरार थे। इसके बाद उन्हें चौदह वर्ष बाद गिरफ्तार किया गया है। जिस जगह से सभी को गिरफ्तार किया है उसे संवेदनशील माना जाता है।
कई बार टीम बनाकर की गई थी खोज
चौदह साल में कई बार इन वारंटियों की तलाश के लिए टीम को भेजा गया, लेकिन हर बार पुलिस के लिए खाली हाथ ही लौटना पड़ा था और इस बार पुलिस के लिए सफलता हाथ लगी है।

Show More
sachendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned