scriptमोबाइल गुमने की पुलिस ने नहीं लिखी रिपोर्ट, चोर ने उड़ाए 90 हजार रुपए | Patrika News
सागर

मोबाइल गुमने की पुलिस ने नहीं लिखी रिपोर्ट, चोर ने उड़ाए 90 हजार रुपए

पुलिस की लापरवाही पीड़ित को पड़ी भारी, हर माह होते हैं मोबाइल चोरी, लेकिन एफआइआर की जगह लिया जाता है आवेदन

सागरJun 27, 2024 / 12:28 pm

sachendra tiwari

Police did not file report after mobile lost

फाइल फोटो

बीना. पुलिस की लापरवाही से एक युवक के खाते से अज्ञात व्यक्ति ने 90 हजार रुपए निकाल लिए। मोबाइल गुमने के बाद पुलिस द्वारा एफआइआर दर्ज न करने और खाते से मोटी रकम निकलने के बाद उन्होंने सीएम हेल्पलाइन में पुलिस के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।
पुष्प विहार कालोनी निवासी राहुल शाह ने शिकायत की है कि 23 जून को उनका मोबाइल गिर गया था। मोबाइल गुमने की शिकायत लेकर वह पुलिस थाना पहुंचे, लेकिन पुलिस एफआइआर दर्ज नहीं की। अगले दिन जब वह स्टैट बैंक में अपना एकाउंट लॉक कराने पहुंचे, तो पता चला कि उनके खाते से तीन बार में 89 हजार 999 रुपए ट्रांसफर किए गए हैं। वह दोबारा इसकी शिकायत लेकर पुलिस थाना पहुंचे, लेकिन पुलिस ने फिर भी उनकी बात नहीं सुनी। इसके अलावा एफआइआर करने से भी मना कर दिया है। खाते से 90 हजार रुपए निकलने के बाद उन्होंने इसकी शिकायत सीएम हेल्पलाइन में कर पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। उनका कहना है कि यदि पुलिस एफआइआर करके नंबर सर्विलांस पर डाल देती तो इससे लोकेशन के साथ यह भी पता चल जाता कि उनके खाते से किस अकाउंट में राशि ट्रांसफर की गई है। पुलिस के नाकारात्मक रवैए के चलते युवक को अपनी जमा पूंजी गंवानी पड़ी।
मोबाइल चोरी में लेते हैं आवेदन

मोबाइल चोरी या गुमने की घटना को पुलिस जरा भी गंभीरता से नहीं लेती। पुलिस एफआइआर करने के स्थान पर पीडि़तों से आवेदन मांगती है। हजारों का मोबाइल चोरी होने के बाद लोग पुलिस के चक्कर लगाते रहते हैं और पुलिस टालने का काम करती है। मोबाइल चोरी और गुम होने के मामलों को गंभीरता से न होने के कारण न तो चोर पकड़े जाते हैं और न लोगों को उनके मोबाइल वापस मिलते हैं। इस मामले में भी यही हुआ है।

Hindi News/ Sagar / मोबाइल गुमने की पुलिस ने नहीं लिखी रिपोर्ट, चोर ने उड़ाए 90 हजार रुपए

ट्रेंडिंग वीडियो