समझाइश देने से नहीं माने लोग, पुलिस ने दिखाई सख्ती तब पहुंचे घर

21 दिन के लॉकडाउन का पहला दिन

बीना. 21 दिन के लॉकडाउन के पहले दिन ही पुलिस, प्रशासन सख्त हो गया है। सुबह 6 से 9 बजे तक किराना, सब्जी सहित जरूरी सामान की दुकानें खोली गईं, जहां बड़ी संख्या में लोगों ने पहुंचकर खरीदारी की। इसके बाद सड़क पर घूमने वालों पर पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए उन्हें घर पहुंचाया।
सब्जी और किराना दुकानों पर लोग एक साथ बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं, जिससे आपस में पर्याप्त दूरी नहीं बन पा रही है। ऐसे में यदि कोई संक्रमित व्यक्ति वहां पहुंचता है तो दूसरे लोगों को भी संक्रमण का खतरा बना रहता है, लेकिन अब प्रशासन द्वारा जल्द ही ऐसी व्यवस्था की जा रही, जिसमें एक मीटर के अंतराल से दुकानें लगाई जाएंगी और खरीदारी करने वालों को भी दूरी बनाकर खड़े करने के लिए जगह चिंहित की जाएगी। बुधवार को पहला दिन होने के कारण व्यवस्थाएं नहीं बन सकी थीं। लॉक डाउन होने के बाद भी लोग सड़कों पर घूम रहे थे, जिसपर पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए उन्हें घर में रहने के लिए कहा। सख्ती के बाद सड़कें सूनी हो गईं।
महंगे दामों पर बेच रहे सामान
लॉक डाउन का फायदा अब दुकानदार, सब्जी और फल विक्रेता उठाने लगे हैं और वह लोगों को महंगे दामों पर सामान दे रहे हैं। जबकि प्रशासन द्वारा सख्त निर्देश दिए गए हैं कि कोई भी महंगे दामों पर सामान नहीं बेचेंगा। कुछ लोगों ने इस संबंध में एसडीएम से भी शिकायत की है।
बाहर के लोगों को जाने की नहीं दी अनुमति
दूसरे शहर और राज्यों से जो लोग बीना में काम करने आए हैं वह बुधवार को अधिकारियों से अपने घर जाने की अनुमति लेने के लिए पहुंचे, लेकिन उन्हें अनुमति नहीं दी गई और लॉक डाउन खत्म होने तक जहां काम करने आए हैं वहीं रहने के लिए कहा गया है।
रात में भी खुलेंगे दो मेडिकल स्टोर
रात के समय लोगों को दवाएं मिल सकें इसके लिए दो मेडिकल स्टोर खुले रहेंगे। जिसमें खुरई रोड पर सिटी मेडिकल और खिमलासा रोड पर शिव मेडिकल शामलि हैं।

sachendra tiwari Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned