मालिक गए जेल तो 3 दिन घर में भूख से बेहाल पड़ा रहा 'जिमी', 5 दिन से थाने में रख खिला रहे हैं पुलिसवाले

कुत्ते के सारे मालिक हैं जेल में बंद, कोई नहीं मिला रखवाला तो पुलिस थाने में रख कर रही है केयर

By: Muneshwar Kumar

Published: 01 Jul 2019, 06:57 PM IST

बीना. सागर जिले के बीना में पिछले दिनों हुए एक गोलीकांड ( bina murder case ) में पांच लोगों की मौत हो गई थी। आरोपी परिवार के लोग ही थे। आरोपियों में मनोहर अहिरवार और उसके पुत्र प्रशांत और प्रवीण शामिल थे। साथ ही घर की महिलाएं भी आरोपी थीं। पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर जेल ( family in prison ) भेज दिया

 

हत्याकांड के सभी आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद घर में अकेला कुत्ता रह गया था। मालिकों के जेल जाने के बाद 'जिमी' तीन दिनों तक घर में भूख प्यास से बेहाल पड़ा रहा। कोई उसकी देखभाल करने वाला नहीं था। लैब्राडोर नस्ल के इसे कुत्ते के आखों से घर में पड़े-पड़े आंसू भी निकल रहे थे।

इसे भी पढ़ें: दो फीट जमीन के लिए अपनों पर दागी दनादन गोलियां,5 की ली जान

policeman caring dog

 

पड़ोसियों ने दी जानकारी
जिमी घर में बेहाल पड़ा था। पुलिस ने भी गिरफ्तारी के वक्त ध्यान नहीं दिया था। मनोहर अहिरवार के पड़ोसियों ने पुलिस को इसकी जानकारी दी। उसके बाद बजरिया थाने की पुलिस वहां जांच के लिए पहुंची। कुत्ते की हालत देख पुलिसवालों को भी दया आ गई। इसकी पूरी जानकारी जांच करने गए पुलिसकर्मियों ने थाना प्रभारी को दी।

policeman caring dog

 

घर जाकर ही खिलाया खाना
पुलिसकर्मियों ने कुत्ते को दिन दिनों तक आरोपी के घर जाकर ही खाना खिलाया। उसके दूध और बाकी चीजें जाकर दिया करते थे। उसके बाद वह कुत्ता पुलिसवालों को अच्छे से पहचान गया तो उसे थाना लाया गया।

इसे भी पढ़ें: मरने के बाद आधे घंटे के लिए जीवित हुआ वृद्ध,बोला रुको अभी...

policeman caring dog

 

चार पुलिसकर्मी कर रहे हैं देखभाल
अब थाने में चार पुलिसकर्मी ( policeman caring dog ) कुत्ते की देखभाल कर रहे हैं। जिमी भी पुलिसवालों के साथ घुल मिल गया है। सबसे उसे दुलारते रहते हैं। वहीं, थाने में तैनात पुलिस अधिकारी और कर्मी उसे कुछ-कुछ खिलाते रहते हैं। अब लोगों को वह अजनबी नहीं मान रहा है।

policeman caring dog

 

पड़ोसी-रिश्तेदार नहीं हुए तैयार
दरअसल, पुलिस ने आरोपी के रिश्तेदार और पड़ोसियों से भी कुत्ते को रखने के लिए संपर्क किया था। लेकिन कोई भी तैयार नहीं हुआ। उसके बाद पुलिसकर्मी उसे थाने लेकर आए। अब उसकी यहां अच्छे देखभालल हो रही है।

policeman caring dog

 

कब घटी थी घटना
दरअसल, 21 जून 2019 को बीना के गणेश वार्ड में जमीन के विवाद को लेकर मनोहर और उसके बेटों ने गोली मारकर अपने ही परिवार के पांच लोगों की हत्या कर दी थी। इसके बाद मनोहर समेत उसके परिवार के छह लोग जेल के अंदर हैं।

Show More
Muneshwar Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned