खड़ाऊ पहन गौर समाधि तक जाएंगे राष्ट्रपति, इस कारण हुआ व्यवस्था में बदलाव

अब सर्किट हाउस में ठहरेंगे

By: manish Dubesy

Published: 25 Apr 2018, 12:52 PM IST

सागर. केंद्रीय विश्वविद्यालय में ४२ साल बाद 28 अप्रैल को होने जा रहे दीक्षांत समारोह से चार दिन पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द के विश्राम के लिए की गई व्यवस्था में बदलाव किया गया है। पहले राष्ट्रपति को केंद्रीय विवि परिसर के सेफ हाउस में ठहराने की तैयारी की गई थी लेकिन अब कलेक्ट्रेट कैंपस स्थित सर्किट हाउस में इंतजाम किए गए हैं।
सर्किट हाउस में ही राज्यपाल के रुकने की भी व्यवस्था की गई है, जबकि विवि गेस्ट हाउस में राष्ट्रपति के साथ आने वाले अधिकारी ठहरेंगे। पिछले दिनों अधिकारियों द्वारा विवि के गेस्ट हाउस पर आपत्ति जताए जाने के बाद कलेक्ट्रेट कैंपस में स्थित सर्किट हाउस में तैयारियां की जा रही हैं।
मंच पर नहीं होगा डी.लिट-डीएससी का सम्मान
पू र्व में मंच पर पीएचडी, डी.लिट और डीएससी छात्रों को राष्ट्रपति से सम्मानस्वरूप मेडल दिलाने सूची तैयार की गई थी लेकिन अब नए कार्यक्रम के अनुसार राष्ट्रपति विवि प्रशासन द्वारा चयनित ११ टॉपर छात्रों को ही मंच पर सम्मानित करेंगे। दीक्षांत समारोह के बाद अकादमिक परेड भी होगी। इसमें केंद्रीय विवि के इसी मेंबर और डीन शामिल होंगे। अकादमिक परेड के लिए ड्रेस कोड भी तय किया गया है, जिसके तहत महिलाएं साड़ी जबकि पुरुष कुर्ता-पायजामा और ब्राउन कलर के सेंडिल पहनकर शामिल होंगे।

बम डिस्पोजल स्क्वॉड ने चप्पे-चप्पे में की सर्चिंग
सागर. राष्ट्रपति के आगमन से पहले पुलिस और सुरक्षा एजेंसियोंं ने मंगलवार से केंद्रीय विवि और स्वर्ण जयंती हॉल की सुरक्षा अपने हाथ में ले ली है। एसपीजी के सुरक्षा दस्ते के आने से पहले मंगलवार को मंच से प्रवेश द्वार के बीच स्नीफर डॉग और एक्सप्लोसिव एक्सपर्ट दिनभर डिटेक्टर से सर्चिंग करते रहे।
ढाना से विवि परिसर और सॢकट हाउस के बीच राष्ट्रपति का काफिला जिस रास्ते से गुजरेगा, वहां स्थित घर और उनमें रहने वाले लोगों की जानकारी के अलावा केंद्रीय विवि परिसर में निवासरत लोगों की जानकारी भी खुफिया एजेंसियों द्वारा जुटाई जा रही है।
राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द के काफिले के लिए दिल्ली और भोपाल से वाहन आएंगे। काफिले में ६० से ८० वाहन होंगे और बीच में राष्ट्रपति के अत्याधुनिक और सुरक्षा साधनों से लैस वाहन होंगे। सुरक्षा एजेंसी एसपीजी के कमांडो सहित अधिकारियों के लिए भी वाहनों के इंतजाम किए जा रहे हैं। राष्ट्रपति के काफिले में ढाना हवाई पट्टी से राज्यपाल और मुख्यमंत्री भी शामिल होंगे। राष्ट्रपति के दौरे से एक दिन पहले केंद्रीय विश्वविद्यालय पहाड़ी हाइ सिक्योरिटी एरिया में तब्दील हो जाएगी। सिविल लाइन से एसपी ऑफिस होते हुए विवि परिसर से गुजरने वाले सामान्य वाहनों का प्रवेश रोक दिया जाएगा और पथरिया जाट की ओर से भी वाहन विवि परिसर होकर नहीं आ सकेंगे।
ऐसा होगा कार्यक्रम
दीक्षांत समारोह में शिरकत करने के बाद राष्ट्रपति सर्किट हाउस में दो घंटे रुकेंगे और फिर स्वर्ण जयंती हॉल में आयोजित कबीर महोत्सव में शामिल होंगे।
इसके बाद वे केंद्रीय विवि के संस्थापक डॉ.हरिङ्क्षसह की समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित करेंगे, समाधि तक पहुंचने के लिए उन्हें खड़ाऊ पहनाने की व्यवस्था की जा रही है।
राष्ट्रपति के आगमन के दौरान दो केंद्रीय मंत्री भी होंगे। इसमें मानव संसाधन विकास मंत्री के अलावा केंद्रीय राज्यमंत्री वीरेन्द्र कुमार खटीक का आना तय माना जा रहा है।

manish Dubesy Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned