हैंडपंपों ने तोड़ा दम, नलजल योजना है बंद, ग्रामीण पानी के लिए परेशान

ग्राम रामपुर में गहराया जलसंकट

By: sachendra tiwari

Published: 03 Jan 2020, 10:29 AM IST

बीना. ग्राम रामपुर में जनवरी माह से ही जलसंकट गहराने लगा है। गांव के अधिकांश हैंडपंप दम तोड़ चुके हैं और यहां की नलजल योजना कई वर्षों से बंद पड़ी है। ग्रामीण निजी ट्यूबवेलों के भरोसे हैं।
मिली जानकारी के अनुसार गांव में पांच हैंडपंप हैं, जिसमें सिर्फ दो ही चालू हैं और इनमें भी पर्याप्त पानी नहीं है। पंचायत द्वारा एक ट्यूबवेल में मोटर डाली गई है, लेकिन मोटर दो सौ फीट से पानी नहीं खींच पा रही है, जिससे एक बर्तन भरने में भी समय लग जाता है। ग्रामीणों ने बताया कि पंचायत भवन के पीछे एक ट्यूबवेल है, जिसमें पर्याप्त पानी है, लेकिन दो वर्षों से इसकी मोटर जली पड़ी है उसे बदला नहीं जा रहा है। जबकि बिल पंचायत हर माह भर रही है। इस ट्यूबवेल से स्कूल तक पाइप लाइन भी बिछी है यदि मोटर चालू कर दी जाए तो गांव के कुछ प्वाइंटों तक पानी सप्लाई किया जा सकता है।
निजी ट्यूबवेलों के भरोसे ग्रामीण
गांव में जल संकट गहरा जाने के बाद अब लोग निजी ट्यूबवेलों के भरोसे हैं, लेकिन खेतों में चल रही सिंचाई के कारण निजी ट्यूबवेलों से भी पर्याप्त पानी नहीं मिल पाता है। इसके बाद भी पंचायत द्वारा कोई रुचि नहीं ली जा रही है। जबकि ग्रामीणों द्वारा कई बार पानी की उचित व्यवस्था करने की मांग कई बार कर चुके हैं।

sachendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned