सागर पत्रिका. अयोध्या मामले का फैसला आने के बाद सागर जिले में अमनचैन कायम था। हालांकि शुरू में बाजारों में सुनसान छाया था। लेकिन फैसले के बाद जनमानस निकला। सभी ने फैसले को सराहनीय बताते हुए इसका सम्मान किया। इसमे पोलिसऔर प्रसाशन की भूमिका अहम रही । लगातार चौकसी और जनप्रतिनिधियों और धार्मिक संगठनों से लगातार संपर्क ने सोहाद्र्र को बनाये रखा। कानून व्यवस्था के लिये पुलिस व प्रशासन के अधिकारी पूरी तरह चौकस रहे हैं। कमिश्नर आनंद कुमार शर्मा और आईजी सतीष सक्सेना ने कानून व्यवस्था की समीक्षा की। कलेक्टर प्रीति मैथिल नायक, पुलिस अधीक्षक अमित सांघी और अन्य वरिष्ठ अधिकारी पूरे दिन शहर का भ्रमण करते हुए लोगों से शांति की अपील करते रहे। चप्पे-चप्पे पर पुलिस का पहरा रहा। हर आने जाने वाले मार्ग पर कड़ी निगरानी थी। शहर में अमन-चैन व शांति की बहाली के लिए सामाजिक संगठन व राजनीति से जुड़े लोग भी सक्रिय रहे।

[MORE_ADVERTISE1][MORE_ADVERTISE2]

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned