scriptSingle use plastic will not be sold from today | आज से प्लास्टिक यूज किया तो लगेगा 1 लाख जुर्माना, 5 साल तक की जेल | Patrika News

आज से प्लास्टिक यूज किया तो लगेगा 1 लाख जुर्माना, 5 साल तक की जेल

आज से नहीं होगी सिंगल यूज प्लास्टिक की बिक्री, बाजार में विकल्प बने नए उत्पाद

सागर

Published: July 01, 2022 12:35:46 pm

सागर। एक जुलाई से प्लास्टिक और थर्माकोल के बने वस्तु पर केंद्र सरकार प्रतिबंध लगा रही है। प्लास्टिक और थर्माकोल से बने ग्लास, थाली, कटोरी, प्लेट आदि सामान की बिक्री बाजार में नहीं होगी। सरकार द्वारा जारी आदेश के बाद शहर में प्लास्टिक और थर्माकोल के कारोबारी सामान को समेटने लगे हैं। कारोबारियों ने प्लास्टिक और थर्माकोल की बनी वस्तुओं को बाहर से मंगाना बंद कर दिया है। हालांकि प्रशासन द्वारा कोई कार्यवाही न करने पर अभी पॉलीथिन की बिक्री अभी बाजार में जारी है।

photo1656659043.jpeg
Single use plastic

शहर में हर रोज करीब 1.5 क्विंटल पॉलीथिन की खपत की जा रही है। सिंगल यूज प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन (संशोधन) नियम 2021 के माध्यम से प्लास्टिक एवं थर्मोकोल से बने सिंगल यूज प्लास्टिक की वस्तुएं भी तय की गई है। जिन पर 1 जुलाई से प्रतिबंध लगाया जा रहा है। हालांकि वर्ष 2019 में भी सिंगल यूज पॉलीथिन पर प्रतिबंध लगाया गया था, इसके बावजूद भी शहर में प्रतिदिन पॉलीथिन 1.5 क्विंटल की खपत रोजाना हो रही है। पॉलीथिन से होने वाले प्रदूषण को रोकने के लिए प्लास्टिक वेस्ट (मैनेजमेंट एंड हैंडलिंग) रूल्स 2011 को लागू हुए चार हो गए हैं। लेकिन जिला प्रशासन, नगर निगम शहर में इस नियम को लागू नहीं करा सका है। नियमों के तहत 40 माइक्रॉन से कम मोटाई के पॉलीथिन बैग की बिक्री पर पूरी तरह रोक लगी हुई है।

bottles-container-daylight-802221-1.jpg

सब्जी , फल और तरल पदार्थ में हो रहा है सबसे ज्यादा प्रयोग

शहर में सब्जी और फल, दूध, दही व तरल पदार्थों की दुकानों पर सबसे ज्यादा पॉलीथिन का प्रयोग किया जा रहा है। पिछले कुछ दिन से नगर निगम द्वारा शहर में पॉलीथिन को लेकर कोई कार्रवाई नहीं की है, इसके कारण पॉलीथिन फिर से बाजारों में बिकने लगी है। प्रतिबंध को लेकर कारोबारियों में असमंजस है। पिछले साल 15 दिसंबर से ही प्लास्टिक और थर्माकोल से बनी वस्तु पर प्रतिबंध लगाना था। लेकिन सरकार ने अवधि को बढ़ाकर एक जुलाई कर दिया है।

यह लगेगा जुर्माना

1 जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक पर रोक लगने जा रही है। प्रतिबंध के बाद यदि प्लास्टिक का इस्तेमाल करते हैं तो आम व्यक्ति को पांच सौ से दो हजार और उत्पादक, आयात, भंडारण, बिक्री करने वाले पर प्लास्टिक के मात्रा के मुताबिक पर्यावरण संरक्षण अधिनियम 1986 की धारा 15 के तहत 20 हजार से एक लाख रुपए तक जुर्माना लग सकता है। इसके साथ ही पांच साल की जेल या दोनों हो सकता है।

वेजिटेबल प्लेट्स: वेजिटेबल वेस्ट को फायबर में बदलकर कागज के साथ मोल्ड करके बनाई गई प्लेट्स बिक रही हैं। कर्नाटक से बनकर आ रही इस तरह की एक प्लेट्स 3 रुपए मूल्य की है।

शुगर केन प्लेट्स: शुगर केन (गन्ना) से बनाई गई प्लेट्स, दोने भी बेचे जा रहे हैं। ये उत्तरप्रदेश, महाराष्ट्र और उत्तराखंड से आ रहे हैं। शुगर केन की एक प्लेट साढ़े तीन रुपए और दोना डेढ़ रुपए का है।

कंपोस्टेबल या ऑक्सी बायोडिग्रेडेबल प्रोडक्ट्स: बिल्कुल प्लास्टिक के जैसे दिखने वाले बायोकटलरी के स्पून-फोक आदि कुछ खास हैं। दिल्ली से बनकर आने वाले इन उत्पादों की कीमत 80 पैसे से शुरू है।

कंपोस्टेबल कॉर्न स्टार पॉलिथीन: ये पॉलिथीन की थैली के लिए बहुत अच्छा विकल्प है और इसे कॉर्न (मक्के) से तैयार किया जाता है। बाजार में ये 108 रुपए के 100 पीस बिक रहे हैं।

पेट मटेरियल मिरर ग्लास: प्लास्टिक के ग्लास जो बीने नहीं जा सकते हैं उनके विकल्प के रूप में पेट मटेरियल डिस्पोजेबल इको फ्रेंडली मिरर ग्लास मौजूद हैं। इनका टिकाऊपन काफी अधिक है। सदा ग्लास के साथ-साथ इनमें कैप आइस्₹ीम ग्लास भी मौजूद है। इनके दाम दो रुपए से 6 रुपए प्रति ग्लास है।

पेपर और वुडन कटलरी: पेपर बाउल, पेपर प्लेट के साथ वुडन कटलरी के स्पून-फोक 60 पैसे से लेकर 2 रुपए की कीमत में मौजूद हैं। वुडन कटलरी मलेशिया से आ रही है।

4 गुना ज्यादा है कपड़े के थैले के दाम

व्यापारी दीपक ने बताया कि प्रतिबंध के आदेश के बाद व्यापारियों ने प्लास्टिक से बने उत्पादों को मंगाना बंद कर दिए हैं। उन्होंने इस बार पॉलीथिन की जगह कपड़े के थैले मंगाए हैं। उन्होंने बताया कि उक्त सामग्री के विकल्प में बाजार में कई तरह के समान आ गया है लेकिन प्लास्टिक और थर्माकोल सामग्री के अपेक्षा 4 गुना ज्यादा मंहगा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: CM नीतीश कुमार ने राज्यपाल से मांगा समय, BJP के सभी 16 मंत्री आज देंगे इस्तीफाबिहारः जदयू और भाजपा के बीच तकरार की वो पांच वजहें, जिससे टूटने के कगार पर पहुंची नीतीश कुमार सरकारMaharashtra Cabinet Expansion Live Updates: महाराष्ट्र कैबिनेट का शपथ ग्रहण समारोह खत्म, शिवसेना और बीजेपी के 18 विधायकों ने ली शपथताइवान का चीन समेत दुनिया को संदेश: चीन के सैन्य अभ्यास के तुरंत बाद ताइवान ने भी शुरू की Live Fire Artillery Drill, बज गए युद्ध के नगाड़े18 से 22 अक्टूबर तक गुजरात के गांधीनगर में दिखाई जाएगी भारत की सबसे बड़ी रक्षा प्रदर्शनी, गुजरात चुनाव से पहले बदली तारीखहिंदुओं को अल्पसंख्यक घोषित करना अदालत का काम नहीं: सुप्रीम कोर्टFBI का छापा : अमरीका में भी भारत की तरह छापेमारी, Donald Trump के फ्लोरिडा वाले घर पर FBI की रेडनिकहत जरीन ने गलत साबित की पिता की बात, समाज की कट्टर सोच को दिया गोल्डन पंच
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.