रहवासी क्षेत्र में चल रही बर्फ फैक्ट्री, हादसे का बना रहता है डर

गैस रिसाव की घटना के बाद उठने लगी फैक्ट्री हटाने की मांग

By: sachendra tiwari

Published: 18 Feb 2020, 09:15 AM IST

बीना. सिंधी कॉलोनी में बर्फ फैक्ट्री चलाई जा रही है, जिससे आसपास रहने वाले लोग परेशान हैं और उन्हें डर बना रहता है कि किसी दिन बड़ा हादसा न हो जाए। रविवार की रात हुए अमोनिया गैस लीकेज की घटना के बाद से अब इस फैक्ट्री को बाहर करने की मांग उठाने लगे हैं।
गौरतलब है कि रविवार की शाम सिलेंडर से अमोनिया गैस लीक होने से कई लोगों को आंखों में जलन होने लगी थी। इसके बाद पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने पहुंचकर लीकेज बंद कराया। लीकेज बहुत कम था इसलिए जल्द ही उसे बंद कर दिया गया है, यदि बड़ा लीकेज होता तो लोगों का दम भी घुट सकता था। जब गैस रिसाव हुआ तब वहां मौजूद फैक्ट्री के कर्मचारी भी भाग निकले, जबकि उन्हें पहले लीकेज बंद करना था। कर्मचारियों की लापरवाही से बाहर तक गैस फैल गई थी। नियमानुसार इस फैक्ट्री को रहवासी क्षेत्र बाहर होना चाहिए और सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम हों, लेकिन वर्षों से चल रही इस फैक्ट्री को अधिकारी अभी तक वहां से हटवा नहीं पाए हैं।
स्थानीय लोगों की मांग, बाहर हो फैक्ट्री
फैक्ट्री के आसपास रहने वाले लोगों द्वारा मांग की जा रही है कि यह फैक्ट्री कॉलोनी से बाहर की जाए, क्योंकि फैक्ट्री संचालक द्वारा लापरवाही से फैक्ट्री का संचालन किा जा रहा है। इसके पहले भी लोगों द्वारा कई बार शिकायतें की गईं हैं, लेकिन अभी तक इस ओर ध्यान नहीं दिया गया है।
खाद्य विभाग से नहीं है अनुमति
शहर में संचालित बर्फ फैक्ट्री से बनने वाले बर्फ का खाने में भी उपयोग किया जा रहा है, लेकिन यहां खाद्य विभाग से अनुमति नहीं ली गई है। खाद्य विभाग के अधिकारियों द्वारा भी कार्रवाई की बात की जाती है, लेकिन आज तक कार्रवाई नहीं की गई है।
अमोनिया गैस से यह हो सकती है हानि
जानकारों के अनुसार ज्यादा मात्रा में अमोनिया गैस सूंघने पर घुटन होने लगती है और उससे जान जाने का भी खतरा रहता है। इस गैस के संपर्क में आने से त्वचा, आंखों में जलन होने लगती है और ज्यादा देर इसके संपर्क में रहने से आंखों को क्षति भी पहुंच सकती है।
कर रहे हैं नोटिस जारी
रविवार की शाम हुई गैस रिसाव की घटना के बाद फैक्ट्री संचालक को नोटिस जारी किया जा रहा है। यह फैक्ट्री पहले रहवासी क्षेत्र से बाहर थी, लेकिन अब बीच में आ गई है, जिससे उसे बाहर कराने की कार्रवाई की जाएगी।
पूरनसिंह रघुवंशी, सीएमओ, बीना

sachendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned