Lok sabha election 2019 : डकैत ददुआ के बेटे को समाजवादी पार्टी ने दिया खजुराहो से टिकट

वीरसिंह कई मामलों में खा चुके हैं जेल की हवा

By: Samved Jain

Published: 10 Apr 2019, 02:19 PM IST

सागर. मध्यप्रदेश और उत्तप्रदेश के बुंदेलखंड अंचल में खंूखार डकैत रहे ददुआ के बेटे वीर सिंह को समाजवादी पार्टी ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए खजुराहो सीट का प्रत्याशी घोषित किया है। यूपी के कर्वी में रहने वाले वीरसिंह 2012 में समाजवादी पार्टी के विधायक भी रह चुके है। इतना ही नहीं वीर सिंह पर आधा दर्जन से अधिक आपराधिक प्रकरण भी है, जिनमें वह जेल की हवा भी खा चुके है। इस बार वह अपना मध्यप्रदेश से आजमा रहे है। इससे पहले आपको बता देते है कि डकैत ददुआ और उसके बेटे वीरसिंह का पूरा परिचय...

 

Lok sabha election 2019 : डकैत ददुआ के बेटे को समाजवादी पार्टी ने दिया खजुराहो से टिकट

यह भी पढ़ें: भाजपा छोड़ सपा का थांमा दामन, अब बेटा भी नहीं देगा साथ, टीकमगढ़ का हाल

बुंदेलखंड के कुख्यात डाकू ददुआ का बेटा है वीरसिंह
समाजवादी पार्टी से खजुराहो प्रत्याशी वीर सिंह्रबुंदेलखड में वर्षों दहशत का पर्याय बनने वाले कुख्यात डाकू ददुआ उर्फ स्वर्गीय शिवकुमार सिंह के पुत्र हैं। वीर सिंह का जन्म 1 जुलाई 1979 को चित्रकूट जिले के देवकली गांव में हुआ था। वीर सिंह के पिता ददुआ का प्रभाव भी बुंदेलखंड सहित एमपी के एक दर्जन जिलों के कुर्मियों पर था। इसी के चलते वह चित्रकूट की कर्वी विधानसभा क्षेत्र से 2012 में विधायक चुन लिए गए थे।वीर सिंह ने बसपा प्रत्याशी रामसेवक को करीब 15 हजार से ज्यादा मतों से हराया। वीरसिंह का विवाह 2001 में ममता सिंह से हुआ था। वर्ष साल 2012 में विधायक बनने के बाद उन्हें प्रश्न व सन्दर्भ समिति का सदस्य बनाया गया। जिस पद पर वह 2013 तक बने रहे।

 

Lok sabha election 2019 : डकैत ददुआ के बेटे को समाजवादी पार्टी ने दिया खजुराहो से टिकट

वीर सिंह का यहां से शुरू हुआ राजनैतिक कॅरियर
2018 में यूपी के कर्वी से विधायक बनने से पहले वह 2005 से 2011 तक चित्रकूट क्षेत्र से जिला पंचायत अध्यक्ष भी रहे। वह कई मामलों में जेल की हवा खा चुके हैं। मिनी चंबल के नाम से चर्चित पाठा के बीहड़ में दस्यु ददुआ ने तीन दशक तक समानांतर सरकार चलाई थी। उसकी मर्जी से ही विभिन्न राजनीतिक दल अपने उम्मीदवार उतारा करते थे। 2007 में एक मुठभेड़ में उसके मारे जाने के बाद उसका परिवार सक्रिय राजनीति में आया और छोटे भाई बालकुमार 2009 के लोकसभा चुनाव में मिर्जापुर सीट से सांसद हुए और बालकुमार का बेटा राम सिंह पटेल 2012 के विधानसभा चुनाव में प्रतापगढ़ जिले की पट्टी सीट से विधायक हुआ, जबकि ददुआ के बेटे वीर सिंह चित्रकूट जिले की कर्वी सदर सीट से विधायक चुने गए। इसके पहले वीर सिंह पिता ददुआ की हनक की बदौलत साल 2000 में चित्रकूट जिला पंचायत के निर्विरोध अध्यक्ष भी चुने गए थे।

 

Lok sabha election 2019 : डकैत ददुआ के बेटे को समाजवादी पार्टी ने दिया खजुराहो से टिकट

यह भी जानना जरूरी
खजुराहो लोक सभा टीम पर मौजूदा सांसद भाजपा के नागेंद्र सिंह है। जो अब विधायक बन चुके है। कांग्रेस ने यहां से कांगे्रस नेता नातीराजा की पत्नी को उम्मीदवार बनाया है। जबकि भाजपा अब तक अपने प्रत्याशी की घोषणा नहीं कर सकी है। खजुराहो सीट छतरपुर, पन्ना और कटनी जिलों की 8 विधानसभा को मिलाकर बनी है।

Show More
Samved Jain
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned