जिला अस्पताल में इन सुविधाओं के लिए कवायद शुरू

जिला अस्पताल में इन सुविधाओं के लिए कवायद शुरू

Aakash Tiwari | Publish: Feb, 15 2018 03:48:54 PM (IST) Sagar, Madhya Pradesh, India

बताया गया है कि वर्तमान में बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में यह हॉस्टल संचालित है

सागर. जिला अस्पताल परिसर में जीएनटी (जनरल नर्सिंग ट्रेनिंग) हॉस्टल बनाए जाने के लिए सिविल सर्जन ने स्वास्थ्य विभाग की पीआईपी एजेंसी को डिमांड भेज दी है। भेजे गए प्रपोजल में बताया गया है कि वर्तमान में बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में यह हॉस्टल संचालित है, लेकिन नए सत्र से बीएससी नर्सिंग कोर्स शुरू होने वाला है। बीएमसी प्रबंधन ने हॉस्टल खाली करने के लिए पत्र दिया है। डिमांड में २८० सीटर वाले हॉस्टल की मांग की गई है।
फिजियोथैरेपी यूनिट के लिए भी प्रस्ताव
जिला अस्पताल में फिजियोथैरेपी यूनिट नहीं है। प्रबंधन ने पीआईपी से भी इस यूनिट को शुरू करने के लिए डिमांड भेजी है। यह यूनिट भी परिसर में खाली पड़ी जगह पर बनेगी। यदि जिला अस्पताल में जनरल नर्सिंग ट्रेनिंग के लिए यह हॉस्टल खाली हो जाता है। यहां नर्सिंग छात्राओं के लिए परेशानी नहीं होगी। वहीं जिला अस्पताल के ही स्थान पर बना यह भवन जिला अस्पताल के ही हैंडओवर हो सकेगा। लेकिन यदि बुंदेलखंड मेडिकाल कालेज प्रबंधन इस स्थान को खाली नहीं कराने का मन रखता है तो यह जिला आस्पताल के लिए परेशानी बन सकता है।
चार बैच चलते हैं जीएनटी में
जीएनटी हॉस्टल में ४ बैच के नर्सिंग स्टाफ रहता है। एक बैच में छात्राओं की संख्या ६० है, लेकिन बीएमसी का यह हॉस्टल अस्पताल की जमीन पर बना है। बावजूद बीएमसी ने इसे खाली करने सीएस को पत्र दिया है। सूत्रों की माने तो अस्पताल प्रबंधन चाहे तो हॉस्टल खाली करने से इनकार कर सकता है।
इनकी भी डिमांड
डॉक्टर्स क्वार्टर, पैरामेडिकल स्टाफ के लिए क्वार्टर, आईसीसीयू, गायनी विभाग के लिए अतिरिक्त कमरा की भी डिमांड भेजी गई है। प्रबंधन को इनमें से कुछ काम स्वीकृत होने की उम्मीद है।

भेजी है डिमांड : जीएनटी हॉस्टल, फिजियोथैरेपी सहित
अन्य निर्माण की डिमांड शासन से की है। सभी डिमांड महत्वपूर्ण हैं, उम्मीद है कि इन्हें मंजूरी मिल जाएगी। - डॉ. अरुण सराफ, सिविल सर्जन

Ad Block is Banned