कम संख्या में स्कूल पहुंचे विद्यार्थी, सहमति पत्र दिए, कराने होंगे अभिभावकों के हस्ताक्षर

विद्यार्थियों को शिक्षक देंगे परामर्श

By: sachendra tiwari

Published: 22 Sep 2020, 09:15 AM IST

बीना. कक्षा 9 से 12 वीं तक के विद्यार्थियों के लिए स्वैच्छिक परामर्श लेने सोमवार से स्कूल खुल गए हैं। पहले दिन कहीं स्कूल बहुत देरी से खुले तो कहीं साफ-सफाई भी नहीं कराई गई और बहुत ही कम संख्या में विद्यार्थी स्कूल पहुंचे।
शहर के उत्कृष्ट स्कूल में पूरक परीक्षाएं चल रही हैं, जिससे पहले दिन विद्यार्थी नहीं पहुंचे। वहीं दो नंबर स्कूल देरी से खुला और कक्षों में साफ-सफाई भी नहीं कराई गई थी। एक कमरे में लकड़ी रखी हुईं थी और सभी जगह धूल चढ़ी थी। इससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है स्कूल में सैनिटाइजेशन किस तरीके से किया गया होगा। ब्लॉक के अन्य स्कूलों में भी विद्यार्थी बहुत कम संख्या में पहुंचे। बीइओ जेड इक्का ने बताया कि पहले दिन जो भी विद्यार्थी स्कूल पहुंचे उन्हें सहमति पत्र दिया गया है, जिसपर वह अभिभावक के हस्ताक्षर कराकर लाएंगे कि वह बच्चे को स्कूल भेजने के लिए तैयार हैं। सहमति पत्र में अन्य बिंदु भी शामिल किए गए हैं। जिन स्कूलों में साफ-सफाई नहीं हुई है वहां सफाई करवाई जाएगी। साथ ही सभी स्कूल प्राचार्यों को आदेश दिए गए हैं कि वह स्कूल में सैनिटाइजेशन कराएं और सोशल डिस्टेंस, मास्क सहित अन्य सावधानियां बरतें।
अलग से नहीं आया बजट
कोरोना काल में स्कूल खोलने के आदेश तो दिए गए हैं, लेकिन स्कूल में सैनिटाजेशन सहित अन्य कार्यों के लिए अलग से कोई बजट नहीं आया है। स्थानीय मदों से ही यह कार्य किए जा रहे हैं।

sachendra tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned